22 मार्च को जारी होगी गंगा किनारे वनरोपण योजना की विस्तृत रिपोर्ट

22 मार्च को जारी होगी गंगा किनारे वनरोपण योजना की विस्तृत रिपोर्टGaon Connection

गाँव कनेक्शन नेटवर्क 

नई दिल्ली। गंगा संरक्षण कार्यक्रम के एक हिस्से के तौर पर पूरी गंगा नदी के किनारे पेड़ लगाने (वानिकी हस्तक्षेप) की योजना है। इसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती 22 मार्च, 2016 को नई दिल्ली में गंगा किनारे वन रोपण पर विस्तृत परियोजना रिपोर्ट जारी करेंगी।

इस प्रक्रिया में जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय के अंतर्गत गठित स्वच्छ गंगा राष्ट्रीय मिशन ने (एनएमसीजी) फोरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट (एफआरआई), देहरादून को यह जिम्मेदारी दी है कि वह वानिकी हस्तक्षेप के बारे में एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करे। एफआरआई को यह जिम्मा, अप्रैल 2015 में दिया गया था।

एफआरआई ने विस्तृत परियोजना रिपोर्ट का मसौदा एनएमसीजी को 16 फरवरी, 2016 को सौंप दिया था। इसके बाद जल संसाधन मंत्रालय ने इस बारे में अपनी मंजूरी देते हुए एफआरआई को इस रिपोर्ट को अंतिम रूप देने और इसमें एऩएमसीजी/मंत्रालय की विशेष टिप्पणियों और सुझावों को शामिल करने को कह दिया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top