आगरा में शुरू हुआ पहला ‘उप्र प्रवासी दिवस’

आगरा में शुरू हुआ पहला ‘उप्र प्रवासी दिवस’गाँव कनेक्शन

लखनऊ। आगरा में उप्र प्रवासी दिवस की सोमवार को शुरुआत हो गई| मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में आयोजित होने वाले इस ‘उप्र प्रवासी दिवस’ में राज्य सरकार के मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी भाग ले रहे हैं। फेडरेशन आफ चेम्बर्स आफ कामर्स एण्ड इण्डस्ट्री (एफआईसीसीआई) तथा अर्नेस्ट एण्ड यंग इस आयोजन के सहभागी हैं।

इस आयोजन के दौरान अन्तर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय प्रवासी भारतीयों के संगठनों के साथ कई एमओयू हस्ताक्षरित होने की सम्भावना है।’’ ये संगठन कनाडा, जापान, अमेरिका तथा प्रमुख वित्तीय संस्थाओं से जुड़े हुए हैं, जिनसे उत्तर प्रदेश के प्रवासी भारतीयों को उच्चस्तरीय सुविधाएं मुहैया होंगी।

प्रवासी भारतीयों से निरंतर संवाद की प्रक्रिया को सुदृढ़ बनाने की एक बड़ी पहल करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने आज आगरा में ‘उप्र प्रवासी दिवस’ का आयोजन किया। इस आयोजन में उत्तर प्रदेश से जुड़े एनआरआई / पीआईओ को विभिन्न क्षेत्रों में उनके उल्लेखनीय योगदान को देखते हुए ‘उप्र रत्न अवार्ड’ से सम्मानित किया जाएगा। राज्य सरकार ‘उप्र प्रवासी दिवस’ का उपयोग ज्ञान और सूचना के आदान-प्रदान किए जाने वाले मंच के रूप में विकसित करने का प्रयास करेगी। उत्तर प्रदेश मूल से जुड़े प्रवासी भारतीयों और उद्यमियों के साथ राज्य सरकार सकारात्मक और सार्थक संवाद करते हुए राज्य में पूंजी निवेश और व्यापार को बढ़ावा दिए जाने की हर सम्भव कोशिश कर रही है।

यह आयोजन उप्र प्रवासी भारतीयों और भारतीय मूल से जुड़े उद्यमियों के लिए राज्य के अन्दर चल रही विकास सम्बन्धी गतिविधियों और कार्यक्रमों के बारे में जानकारी देने का एक सुनहरा मौका होगा, जिससे वे सभी राज्य की इस विकास यात्रा में सहभागी बन सकें।

‘उप्र प्रवासी दिवस’ में राज्य सरकार द्वारा इलेक्ट्रानिक विनिर्माण, आईटी, सोलर पार्कों की स्थापना, सौर और नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में किए जाने वाले कार्यों, फिल्म निर्माण सम्बन्धी गतिविधियों के साथ-साथ राज्य की प्रगति और इसकी सम्भावनाओं पर विशेष फोकस होगा। राज्य की तकनीकी प्रगति के चलते नए पूंजी निवेशक उत्तर प्रदेश में पूंजी निवेश के लिए प्रोत्साहित होंगे।

उत्तर प्रदेश में प्रमुख आईटी कम्पनी जैसे- टीसीएस, इन्फोसिस, विप्रो, एनआईआईटी, एचसीएल, एसटी माइक्रो इलेक्ट्रानिक्स, एडोब, फ्रीस्केल की मौजूदगी के साथ-साथ एक्सपोर्ट प्रोसेसिंग जोन तथा आईटी सेक्टर की तेजी से बढ़ती प्रगति के बारे में भी ‘उप्र प्रवासी दिवस’ के दौरान जानकारी मिलेगी।

Tags:    India 
Share it
Top