आज का हर्बल नुस्खा: बड़े काम का है संतरे का छिलका

आज का हर्बल नुस्खा: बड़े काम का है संतरे का छिलकाgaon connection

संतरे के छिलकों में कई तरह से औषधीय गुण पाए जाते हैं। पारंपरिक तौर पर संतरे के छिलकों का इस्तेमाल कॉस्मैटिक उत्पाद बनाने के लिए किया जाता है। संतरे के छिलकों में पेक्टिन्स, फ़्लेवोनोएड्स, नारिंजिन, हर्सपेरिडेन, पोलिमेथाक्सिफ़्लेवोन्स, क्वेर्सेटिन, रुटीन और डी-लिमोनेन जैसे रसायन पाए जाते हैं। जो संक्रामक सूक्ष्मजीवों के विकास को रोकने में बेहद कारगर साबित होता है।
2010 में जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक़ संतरे के छिलकों से बनने वाला तेल आर्थरायटिस की तकलीफ को कम करने में काफ़ी मदद करता है।
आदिवासी अंचलों में संतरे के छिल्कों को छांव में सुखा लिया जाता है और इसे किसी खाद्य तेल में तलकर छान लिया जाता है। इस तेल से जोड़ों पर मालिश की जाती है। ऐसा माना जाता है कि यह पेन किलर की तरह काम करता है। छिल्कों से मिलने वाले रसायनों का इस्तेमाल कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने के लिए किया जा रहा है।

Tags:    India 
Share it
Top