अब खेल-खेल में पढ़ेंगे बच्चे

अब खेल-खेल में पढ़ेंगे बच्चेगाँव कनेक्शन

लखनऊ। आंगनबाड़ी केंद्रों में आने वाले बच्चों को स्कूल पूर्व की शिक्षा दी जाएगी। इसके लिए 'पहल' नाम का पाठ्यक्रम तैयार किया गया है।

इस पाठ्यक्रम में बच्चों को खेल-खेल में पढ़ाया जाएगा ताकि उनका विकास हो सके। इसमें अभिभावकों को भी प्रेरित किया जाएगा कि वे अपने बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों में भेजे। इसके साथ ही बाल विकास सेवा पुष्टाहार निदेशालय ने सभी जिलों के जिला कार्यक्रम अधिकारियों को हर महीने के पहले शनिवार को अर्ली चाइल्ड हुड केयर एंड एजूकेशन (ईसीसीई ) दिवस मनाने के निर्देश दिए है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा, विकास एवं देखभाल के प्रति जागरुक करना है। पहल पाठ्यक्रम को खासतौर पर छह वर्ष तक के उन बच्चों के लिए बनाया गया है जो स्कूल नहीं जाते। इसमें रोचक तरीके से बच्चों को स्कूल पूर्व की शिक्षा दी जाएगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top