आसानी से समझें कि क्या होते हैं खेती को मापने के पैमाने... गज, गट्ठा, जरीब का मतलब

आसानी से समझें कि क्या होते हैं खेती को मापने के पैमाने... गज, गट्ठा, जरीब का मतलब

लखनऊ। भारत के ज्यादातर भागों में खेती को मापने के लिए गज, हाथ, गट्ठा, जरीब, बिस्‍सा, बिस्‍वॉनसी, उनवांनसी, कचवानसी, बीघा, किल्‍ला, एकड, हैक्‍टेयर आदि मात्रकों का प्रयोग होता हैं। लेकिन बहुत लोगों को ये समझ में नहीं आते हैं कि गज कितना होता है, गट्ठा कितना होता है या बिस्वॉनसी कितने क्षेत्र को कहते हैं। इस लिए आज हम इन सभी सम्स्याओं का समाधान लेकर आए हैं और इसके बाद आपको किसी से पूछने की जरूरत नहीं पड़ेगी कि कच्चा बीघा क्या होता है और पक्का बीघा क्या होता है।

लम्‍बाई मापने के मात्रक

ये भी पढ़ें- क्या आपको पता है 'मौजा बेचिराग' का मतलब, जानें राजस्व विभाग के अजब-गजब शब्द

अभी तक गाँव के चकरोड, खलिहान, घूर, ऊसर, बंजर आदि सरकारी जमीनों की जानकारी के लिए लेखपाल और तहसील के चक्कर लगाने पड़ते थे, लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार के इस कदम से एक तरफ जहाँ पारदर्शिता बढ़ेगी वहीं एक क्लिक में ग्रामीण अपने गाँव में स्थित सरकारी जमीनों के बारे में आसानी से जानकारी पा सकेंगे। ज्यादा जानकारी के लिए नीचे वाली ख़बर पढ़ें

ये भी पढ़ें- आपके ग्राम पंचायत में किसने कब्ज़ा की कितनी सरकारी जमीन ऑनलाइन देंखे

ये भी पढ़ें- आप भी जानिए कैसे होती है चकबंदी, कैसे कर सकते हैं आप शिकायत

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें।

Share it
Top