बिजली के मायने नहीं जानते ये लोग

बिजली के मायने नहीं जानते ये लोगगाँव कनेक्शन

लखनऊ। देश के पीएम नरेंद्र मोदी हो या फिर यूपी के सीएम अखिलेश यादव, दोनों गाँवों के विकास को बड़ी-बड़ी बातें करते हैं, वहीं राजधानी के गणेशपुर, बक्शीखेरा, दिघारा, देवरीगजा का पुरवा, सालेहनगर का पुरवा समेत कई गाँवों में अभी तक बिजली नहीं पहुंच पाई है। इन्हीं में से एक गाँव बक्सीखेरा गांव में आजादी के 69 साल बाद भी बिजली नहीं पहुंची है। अभी भी बिजली उनके लिए सपना है।

जिला मुख्यालय से 35 किमी दूर माल ब्लाक के अर्न्तगत आने वाले बक्सीखेरा गाँव में दो हजार से अधिक लोग रहते हैं। गाँव में बिजली न होने से गाँववासियों को आधुनिक दौर में प्रयोग होने वाले तकनीकी साधनों से वंचित रहना पड़ रहा है। माल ब्लाक की ब्लाक प्रमुख राज कुमारी यादव इसी गाँव की रहने वाली हैं और ब्लाक प्रमुख के परिवार के ही सदस्य बक्शीखेरा गाँव के प्रधान हैं। 

माल ब्लाक की ब्लाक प्रमुख राज कुमारी यादव बताती हैं कि हमारे गाँव में बिजली न होना बहुत बड़ी समस्या है। इसकी वजह से गाँववासियों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहे हैं और बिजली विभाग के अधिकारियों को सूचित कर दिया गया है। वे 2-3 दिन में आकर गाँव का सर्वे करेंगे और उसके बाद 20-25 दिनों के अन्दर बिजली गाँव को मुहैया कराई जाएगी। ग्रामीण बताते हैं कि 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव तक बिजली गाँव में मुहैया नहीं कराई गई तो विधानसभा चुनाव में वोटों का बहिष्कार करेंगे।

रिपोर्टर - सतीश कुमार सिंह

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top