बजट के अभाव में अधूरी पड़ी पाइप पेयजल योजना

बजट के अभाव में अधूरी पड़ी पाइप पेयजल योजनाgaonconnection

बागपत। जिले के कई इलाकों में पानी का संकट हैं और यहां तो बजट के अभाव में पाइप पेयजल योजना पूरी तरह से अधूरी पड़ी हुई है।

ौ् 

आधा दर्जन गाँवों में ग्यारह करोड़ रुपए योजना के लिए स्वीकृत किए गए थे। पहली किश्त शासन ने भेज दी, लेकिन दूसरी किश्त भेजने में कंजूसी बरती जा रही है। शासन से चार करोड़ की दूसरी किश्त नहीं आने से लाइन बिछाने का कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। कार्य सुचारू रूप से चालू करने के लिए जल निगम के एक्सईएन ने डीएम को पत्र लिखकर बजट मंगवाने के लिए कहा है। ग्रामीणों के घर तक पानी पहुंचाने के लिए शासन ने आधा दर्जन गाँव चिह्नित किए थे, जिससे पहली किश्त खर्च हो चुकी और दूसरी किश्त का इंतजार विभाग को है। 

प्रदेश सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में पाइप लाइन बिछाकर लोगों के घर तक पानी पहुंचाना चाहती है, ताकि उनको शुद्ध पानी मिल सके और वो भी समय पर। इसलिए पाइप पेयजल योजना का प्रदेशभर में शुभारंभ किया गया था और इस योजना के तहत आधा दर्जन गाँव का चयन किया गया था। इस योजना में आधा दर्जन गाँवों के लिए ग्यारह करोड़ रुपये का प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया था। 

योजना के तहत गांगनौली, सौंटी, मुकंदपुर, पांची, लुहारा और हलालपुर गाँव में यह बजट खर्च होना था। शासन से प्रथम किश्त छह करोड़ की आ गयी, लेकिन दूसरी किश्त अभी तक नहीं आयी, जिससे पिछले काफी दिनों से इन गाँवों का बजट के अभाव में कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। पहली किश्त पाइप लाइन बिछाने के कार्य में खर्च हो चुकी है और शासन भी दूसरी किश्त भेजने में लगातार कंजूसी बरत रहा है। विभागीय अधिकारियों के कई बार शासन को पत्र लिखने के बाद भी दूसरी किश्त नहीं भेजी जा रही है, जिससे कार्य को पूरा नहीं किया जा रहा।

जब शासन के पास बजट नहीं था तो फिर क्यों कार्य शुरू कराया गया। अब बजट नहीं आने के कारण अधूरे कार्य से ग्रामीणों को काफी दिक्कत आ रही है, क्योंकि लाइन बिछाने के लिए सड़क खोद डाली है। इसके कारण रात के अंधेरे में गड्ढों में गिरने का ग्रामीणों को खतरा लग रहा। अब जल निगम के अधिशासी अभियंता  संजय कुमार गौतम ने डीएम को पत्र लिखकर शासन से बजट मंगवाने की मांग की है, ताकि पाइप लाइन बिछाने का कार्य तेजी से करके ग्रामीणों के घर तक पानी पहुंचाकर योजना का लाभ दिया जा सके। 

Tags:    India 
Share it
Top