ऑनलाइन कम्पनी के बुकिंग के सहारे कहीं बाहर घूमने जा रहें है तो ये खबर जरुर पढ़ लें

ऑनलाइन कम्पनियों की सेवाएं लेने में कई बार ग्राहकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है और ज्यादातर लोग इसकी शिकायत नहीं करते। लेकिन "मेक माय ट्रिप " कंपनी के गैर जिम्मेदाराना रवैये से पीड़ित एक ग्राहक की आपबीती फेसबुक पर सुर्खियों में आ गयी हैं।

ऑनलाइन कम्पनी के बुकिंग के सहारे कहीं बाहर घूमने जा रहें है तो ये खबर जरुर पढ़ लें

अगर आप भी परिवार सहित गर्मियों की छुट्टी में कही जाने का मन बना रहें है।या ऑफिस के काम से अक्सर बाहर आना -जाना रहता हैं।और यात्रा के लिए वाहन या होटल बुकिंग करने वाले ऑनलाइन "एप्स" का प्रयोग कर रहें है।तो ऑनलाइन सेवा देने वाले एप्स, कंपनी से डील के बारें में पूरी जानकारी जरुर कर ले।मसलन होटल का किराया क्या है, बुकिंग अमाउंट में होटल में क्या-क्या सुविधाए मिलेंगी।एक्स्ट्रा चार्ज कितना लगेगा और कोई असुविधा होने पर ऑनलाइन कम्पनी मौके पर क्या मदद करेगी।

दिल्ली के एक व्यवसाई ने लिखी फेसबुक पोस्ट

दिल्ली के एक व्यवसाई की लिखी पोस्ट फेसबुक पर तेजी से वायरल हो रही है।जिसे अब तक 87 हजार 5 सौ लोग शेयर कर चुके है, और 35 हजार लोगो ने नई दिल्ली निवासी व्यवसाई रवि अग्रवाल उर्फ़ रवि सिंहल नाम के एक युवक की पोस्ट फेसबुक पोस्ट को लाइक करने के साथ पोस्ट पर कमेंट भी किये है।



गाँव कनेक्शन अखबार को फोन पर रवि ने बताया," मेरा उदेदश्य "मेक माय ट्रिप "की बदनामी करना नहीं है। लेकिन जो मेरे और मेरे दोस्तों के साथ हुआ वो बर्दाश्त करने लायक नही हैं।जब मैंने फेसबुक पर पोस्ट डाली तब भी मैंने "मेक माय ट्रिप "के अधिकारियो को फोन किया।जब उस पर 75 शेयर हुए तो भी उन्हें बताया कि या तो होटल रेड कारपेट को ब्लैक लिस्ट कीजिये और मेरा रिफंड दिलाये पर कोई उत्तर नहीं मिला।जब पोस्ट पर 15 सौ शेयर हुए तब भी कंपनी को फोन किया पर कंपनी ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया।

रवि ने बताया की जिस दिन हिमांचल प्रदेश के होटल रेड कारपेट में ये घटना हुई उस दिन बच्चे काफी डरे हुए थे ,रात में ढाई बजे तक "मेक माय ट्रिप कंपनी "के अधिकारी सौरभ से बात हुई।उन्होंने 10 जून का बुकिंग का रिफंड देने के साथ मेक माय ट्रिप पर जाकर साईट पर उपलब्ध होटलों में से कोई होटल चुनने की सलाह दी और सुबह 7 बजे काल बैक करने को बोलकर फोन काट दिया।

सुबह कई बार फोन करने के बाद भी कंपनी के प्रतिनिधि सौरभ फोन पर नहीं आये।

हिमाचल पर्यटन को भी की शिकायत .....

रवि ने बताया की इस बाबत हिमाचल प्रदेश के पर्यटन विभाग को ऑनलाइन शिकायत की है।शिकायत में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ,मोदी जी और मंत्री महेश शर्मा जी को टैग किया है।

होटल मालिक और कम्पनी से हो सकता हैं खतरा

दिल्ली के व्यवसाई रवि ने गाँव कनेक्शन को फोन पर बताया ,"पोस्ट के इतने बड़े स्तर पर वायरल होने के बाद मै और मेरे परिवार के लोग डरे हुए है।अब डर लग रहा है की कहीं मेरे या मेरे परिवार के साथ कोई अनहोनी न हो जाए।मुझे समझ नहीं आ रहा हैं कि अब मुझे क्या करना चाहिए "।

देखिये रवि सिंघल की फेसबुक पोस्ट .

"हम 4 परिवार कुल मिला कर 15 लोग 5 जून से 10 जून तक की बुकिंग कराकर हिमाचल और पंजाब गए ,हमने सारी होटल की बुकिंग मेक माय ट्रिप से कराई ।आखरी 2 दिन हमारे होटल धर्मशाला में hotel रेड carpet में थे ।हमने 9 जून मतलब परसो 4 रूम में चेक इन किया ,चेक इन करने के बाद उस होटल मालिक का व्यवहार बहुत अजीब सा था ,चूंकि हमने 4 रूम बुक कराये थे हमने सारे रूम 2 -2 एडल्ट के लिए कराये थे, उसने बोला बच्चो के पैसे एक्स्ट्रा लूँगा 800 रूपये 2 दिन के ,हमने कहा ठीक है कोई बात नहीं ।सर उस होटल के नीचे restaurant और था शाम के टाइम हम पहुंचे थे।

हमने अपनी टेम्पो ट्रैवलर delhi से बुक करा रक्खी थी ,हमने उस रेस्टुरेंट से 7 चाय और 1 कॉफ़ी और थोड़ी cookies का आर्डर दिया जिसमे चाय कॉफ़ी तो अच्छी थी पर cookies सीली हुई थी हम सर डेल्ही में 2 जोड़े दूकान का काम करते है,हम आपस में बात कर रहे थे कि ये कूकीज सही नहीं है सीली भी हुई है और रेट भी बहुत ज्यादा है ।

हमने निर्णय लिया की अब खाना इसके यहाँ न खाकर कहीं और दूसरी जगह खाएंगे अब हम 4 परिवार अपने कमरो में चले गए और वहां जाकर देखा की होटल ने कमरो में पानी का जग भी नहीं रख रखा था हमने होटल में फोन किया पर उस लालची मालिक ने फ़ोन उठाया और कहता की पानी खरीद कर पीलो ।सर 3000 का रूम था बेसिक फैसिलिटी भी नहीं थी तोलिया सिर्फ एक ही था हर रूम के हिसाब से जो हर होटल में कम से कम 2 होते है ,रात हुई हम खाना खाने चले गए और वापस में दुबारा जब अपने होटल के कमरे में पहुंचे हम सबमे एक बच्चे ने गूगल पे होटल की वेबसाइट पे जाकर होटल को 1 स्टार दे दिया हमें पता भी नहीं था उसने नादानी में दे दिया अब हमने रिसेप्शन पे फ़ोन किया कि आपने 800 रुपये हमसे 3 एक्स्ट्रा गद्दों के मांगे है वो दे दे तो उसने फ़ोन काट दिया कहता नीचे आकर बात करो रात के लगभग 12 बजे थे हम जैसे उसके पास गए उस होटल मालिक ने हमें गालिया देना चालू कर दिया और बोला कहता अभी रात में होटल खली कर दो नहीं तो जान से मार दूंगा सुबह दिख गए तो हमने उसके बहुत हाथ पैर जोड़े की रात में कहाँ जायँगे सुबह खाली कर देंगे पर वो बोला की अब में जा रहा हु लेकिन सुबह आऊंगा तुम दिखना मत सर हम सारे परिवार बहुत डर गए लेकिन रात में हम कहाँ जाते पुलिस में जाने का भी कोई फायदा न लगा क्योंकि होटल मालिक बोला कहना जाओगे पुलिस मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकती और शौक से जाओ होटल में और हम लोगो में 4 लोग सरकारी टीचर थे जो 10जून तक की छुट्टी डिपार्टमेंट से लेकर आये थे और थाने का कोई पता नहीं की हमारे कितने दिन हिमाचल में लगाता और बच्चो को कहाँ ले जातेहमने रात डर के साये में निकली सुबह 8 बजे हमने निकलने की तैयारी की और रिसेप्शन में जब हम गये तो होटल का मालिक और उसका भाई वहां मौजूद थे उन्होंने हमसे 3 गुना पैसे जबर्दस्ती लिए और उसके बाद हमे रिसेप्शन पे बंद कर लिया और कहता की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरे खिलाफ मेक माय ट्रिप में कॉम्प्लैनेट करने की अब वो स्टाफ के साथ काम से कम 20 लोग थे हमने किसी तरह बच्चो को गाडी में बिठा दिया और हम चारो को उसने बहुत बुरी तरीके से मारा हमारे सर में पेट में बहुत चोट आयी हमारे कपडे फाड़ दिए उसने अपने एक स्टाफ को बोला की गाडी ले जा और लड़के बुला के ला ,वो हमें जान से मारने पे आमादा था

पर किस्मत से मेरी बीवी गाडी में से निकलकर आ गयी और किसी तरीके से हमे बचा लिया हमने मेक माय ट्रिप वालो को बहुत फ़ोन किया हम उसकी जिम्मेदारी पे आये थे पर उन्होंने हमारी कोई सुध न ली बल्कि कोई बैक कॉल भी नहीं आयी Make my trip जा रवैय्या बहुत गैर जिम्मेदाराना था अगर हम किसी अनजान जगह पर जाते है तो ये ट्रेवल कंपनी की जिम्मेदारी होती है कि वो हमारी सुरक्षा करे हम रात को 12 बजे से लगातार मेक माय ट्रिप को फ़ोन करते रहे लेकिन उनकी तरफ से हमें कोई पॉजिटिव प्रतिक्रिया नहीं मिली सुबह जब हम चेक आउट करने गए तो होटल का मालिक बोला की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेक माय ट्रिप पे मेरी शिकायत करने की वहां से मार खा कर आने के बाद हमने कई दफा फ़ोन किया लेकिन अभी तक कोई बैक कॉल हमें मेक माय ट्रिप की तरफ से नही आयी ।

मेरे पास सारे सबूत है

इस होटल मालिक के खिलाफ

और मेक माय ट्रिप के खिलाफ

कृपया आप इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे।

साथ में मै होटल के मालिक की id भी शेयर कर रहा हूँ

और जो हिमाचल टूरिज्म को लिखा और जो परिवार साथ गया सब फोटो शेयर कर रहा हूँ

आप सब अधिक से अधिक शेयर करे और make my trip को और होटल मालिक को सबक सिखाये ,

जिससे भविष्य में वो किसी और को अपना शिकार न बनाये

Make my trip booking id NH7003281624122

NH7003481626784

Make my trip complained no. 180609_000549"



मेक माय ट्रिप कम्पनी के प्रतिनिधि से जब इस विषय पर बात करने की कोशिश की गयी लेकिन इस संदर्भ में कम्पनी के किसी प्रतिनिधि से बात नहीं हो पायी ।


.

Share it
Share it
Share it
Top