स्वस्थ रहना है तो गाँव को स्वच्छ और हरा रखना होगा

स्वस्थ रहना है तो गाँव को स्वच्छ और हरा रखना होगाचौपाल में ग्रामीणों को स्वस्थ रहने के उपाय बताए गए।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। सफाई, स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति गाँव के लोगों को जागरूक करने के लिए गाँव कनेक्शन फाउंडेशन के द्वारा जैतपुर गाँव में चैापाल का आयोजन किया गया। इस अवसर पर लोगों को अच्छी सेहत और स्वास्थ्य रहने के लिए स्वच्छता और सुंदरता का पाठ पढाया गया। कैंप में चिकित्सकों ने बुखार, जुकाम और आयरन की गोलियां भी वितरित की।

जिला मुख्यालय से 10 किमी दूर पश्चिम दिशा की ग्राम पंचायत करही में तीन मजरा लगते हैं। मजरा जैतपुर के प्राथमिक विद्यालय में आयोजित चौपाल में ग्रामीणों को सबसे पहले सफाई पर जागरूक किया गया। जिसमें सेक्रेटरी सर्वेश रवि ने गाँव के लोगों को बताया, अपने घर से लेकर आस-पास सफाई रखना बहुत जरूरी है। किसी भी जगह गंदा पानी न ठहरने दें। घरों से और पशुओं के बाडों से निकलने वाले कूढे-करकट को खुली जगह में न डालकर गढढा खोदकर कंपोस्ट खाद बनाए।

शिविर में काफी संख्या में पहुंचे ग्रामीण।

खुले में शौच करने से विभिन्न प्रकार की बीमारियां होती हैं। लोग खुले में शौच को न जाए। इस पर करही के मजरा बंजारन निवासी यशपाल सिंह (55वर्ष) ने कहा,“जब शौचालय ही लोगों के पास नहीं है तो खुले में शौच जाना मजबूरी है।”

इस पर सेके्रटरी ने कहा कि बेस लाईन सर्वे पूरा हो गया है जिस पर तकरीबन 250 शौचालय की लिस्ट भेजी गई है। स्वीकृत होने पर कार्य शुरू करा दिया जाएगा। इसके अलावा ग्रामीणों ने सडक पर लोगों द्वारा बांधे जा रहे पशुओं को हटवाए जाने की मांग की। पिछली पंचवर्षीय में बनवाए गए शौचायल अधूरे पडे हुए है जिनकों को प्रधान नायाब अली ने पूर्ण कराने का आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें-गाँव कनेक्शन फाउंडेशन और स्वास्थ्य विभाग ने शिविर लगाकर ग्रामीणों को बांटीं दवाएं

ग्राम प्रधान नायाब अली ने कहा कि जिन लोगों के पास शौचालय नहीं है वह अवगत करा दें। गांव के प्रत्येक घर में इज्जत घर बनवाया जाएगा। सोशल वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष आरिफ सिददीकी ने सफाई पर गांव के लोगांे को जागरूक किया। दिबियापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की टीम ने लोगों का परीक्षण कर बुखार, जुकाम और महिलाओं को आयरन की गोलियां वितरित की। दिबियापुर चिकित्सा प्रभारी डा जितेंद्र यादव ने स्वयं चौपाल में पहुंचकर लोगों को स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने को बताया। प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य ज्ञान प्रकाश ने चैपाल के लिए काफी सराहनीय कार्य किया।

प्राथमिक विद्यालय कक्षा पांच की छात्रा शाहीन ने चौपाल में कहा कि वि़द्यालय में बालिका शौचालय नहीं है, जिसे बनवा दिया जाए। इस पर सेके्रटरी सर्वेश रवि ने पन्द्रह से बीस दिन के अंदर शौचालय बनवाने की बात कही। वहीं कक्षा पांच की छात्रा शालू ने कहा कि स्कूल में बाउंड्री नहीं है इसलिए जहरीले कीडे-मकूडे घुस आते है। प्रधान ने 14वें वित्त के बजट से बाउंड्री बनवाने का बच्चों और प्रधानाचार्य को आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें- कभी इस चेहरे से डरते थे लोग, आज यही चेहरा महिलाओं की मदद में आ रहा आगे

समिति बनाकर हटवाऐंगे खूटे

प्रधान नायाब अली ने कहा कि सबसे ज्यादा गंदगी गलियों में पशुओं को बांधने से होती है। इसलिए अब समिति बनाकर खूटे गलियों से हटवाए जायेंगे। ग्राम पंचायत सहित चारों जगह समितियां बनाकर खूटे उखडवाने और पशुओं को गली में बांधने से रोकने के लिए जागरूक कर रोकने का काम किया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top