सरकार गरीब बुजुर्गों को देगी सुनने की मशीन और व्हीलचेयर जैसे उपकरण

Swati ShuklaSwati Shukla   26 March 2017 3:29 PM GMT

सरकार गरीब बुजुर्गों को देगी सुनने की मशीन और व्हीलचेयर जैसे उपकरणगरीब बुजुर्गों के लिए सरकार राष्ट्रीय वयोश्री योजना की शुरुआत करने जा रही है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे बुजुर्गों के लिए सरकार राष्ट्रीय वयोश्री योजना की शुरुआत करने जा रही है। इस योजना के तहत बुजुर्गों को बुढ़ापे में होने वाली कमजोरियों और दिव्यांगता में मदद दी जाएगी। इस योजना के लाभार्थी गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल) की श्रेणी में आते हैं। योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को सुनने की मशीन और व्हीलचेयर जैसे मुफ्त सहायक उपकरण मिलेंगे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस योजना का प्रारम्भ केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत ने किया है। जानकारी देते हुए उन्होंने कहा है कि यह योजना गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे के लोगों के लिए है। लाभार्थियों की पहचान जिला कलेक्टर या उपायुक्त की ओर से की जाएगी। साथ ही कोशिश की जाएगी कि कम से कम 30 फीसदी लाभार्थी महिलाएं हों।

अगले तीन सालों में इस योजना से लगभग 5.25 लाख बुजुर्गों के लाभान्वित होने की उम्मीद है। 2011 की जनगणना पर गौर करें तो देश में 10.38 करोड़ वरिष्ठ नागरिक हैं और उनमें से 5.2 प्रतिशत वृद्धावस्था से संबंधित दिव्यांगता से पीड़ित हैं। यह अनुमान है कि 2026 तक वरिष्ठ नागरिकों की संख्या 173 मिलियन हो जाएगी।

उन्होंने आगे बताया कि लाभार्थी की आयु कम से कम 60 वर्ष होनी चाहिए और सक्षम प्राधिकारी गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले व्यक्ति को प्रमाणित करेगा। लाभार्थियों को वॉकर, बैसाखी, व्हीलचेयर, ट्राइपॉड, चश्मा, श्रवण यंत्र और दांत जैसे सहायक यंत्र दिए जाएंगे। वरिष्ठ नागरिकों को 477 करोड़ रुपये के उपकरण दिए जाने की योजना है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top