ग्राफिक्स चेतावनी बच्चों में धूम्रपान के लिए पैदा करेगी नकारात्मक सोच: अध्ययन

सिगरेट के विज्ञापनों पर कैंसर ग्रस्त मसूढ़ों और होंठ से खून निकलने जैसी तस्वीरों वाली ग्राफिक्स चेतावनी बच्चों में धूम्रपान के प्रति नकारात्मक सोच पैदा कर सकती है।

ग्राफिक्स चेतावनी बच्चों में धूम्रपान के लिए पैदा करेगी नकारात्मक सोच: अध्ययनसाभार: इंटरनेट

वाशिंगटन (भाषा)। एक अध्ययन में यह निष्कर्ष निकला है कि सिगरेट के विज्ञापनों पर कैंसर ग्रस्त मसूढ़ों और होंठ से खून निकलने जैसी तस्वीरों वाली ग्राफिक्स चेतावनी बच्चों में धूम्रपान के प्रति नकारात्मक सोच पैदा कर उन्हें इन सब चीज़ों से दूर रखने में मदद कर सकती है।

धूम्रपानसाभार: इंटरनेट

ग्राफिक्स चेतावनी बच्चों के अंदर से धूम्रपान को अच्छा और आनंदकारी मानने वाली भावना को खत्म करने में मददगार साबित हो सकती है। यह अध्ययन हेल्थ एजूकेशन रिसर्च पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

ये भी पढ़ें: धूम्रपान करता जंगली हाथी, वैज्ञानिकों-विशेषज्ञों में कौतूहल

अध्ययनकर्ताओं ने गांव और शहर के कम आय वर्ग वाले समुदायों में धूम्रपान करने वाले 451 वयस्कों और स्कूल जाने वाले 474 लड़कों पर ग्राफिक्स चेतावनी तस्वीरों पर अध्ययन किया है।

ये भी पढ़ें: 11 फीसदी से अधिक लोगों की मौत की वजह धूम्रपान, भारत शीर्ष चार देशों में शामिल

"धूम्रपान को लेकर किये गए अध्ययन में ग्राफिक्स चेतावनी की तस्वीरों का महत्व, धूम्रपान के प्रति लोगों में नकारात्मक भावनाएं पैदा करने से कहीं ज्यादा है।" यह बात अमेरिका के कॉर्नेल विश्वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफेसर जेफ नीदरदेप्पे ने कही।

उन्होंने कहा कि "धूम्रपान के लिए युवाओं को पहली बार में लुभाने वाले विज्ञापनों के प्रभाव को कम करने में भी इन चेतावनियों की भूमिका अहम हो सकती है।"

Share it
Top