भारतीय स्टेट बैंक ने बंद किए 41.16 लाख बचत खाते जानिए क्यों

भारतीय स्टेट बैंक ने बंद किए 41.16 लाख बचत खाते जानिए क्योंभारतीय स्टेट बैंक 

इंदौर। भारतीय स्टेट बैंक 41.16 लाख बचत खाते बंद कर दिए गए, वजह थी खाते में न्यूनतम जमा राशि का न होना। एक सूचना के अधिकार (आरटीआई) के जरिए इसका खुलासा हुआ।

सूचना के अधिकार (आरटीआई) से खुलासा हुआ है कि न्यूनतम जमा राशि नहीं रखे जाने पर ग्राहकों से जुर्माना वसूली के प्रावधान के कारण मौजूदा वित्तीय वर्ष के शुरूआती 10 महीनों (अप्रैल-जनवरी) के दौरान देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई में करीब 41.16 लाख खाते बंद कर दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें- खुशखबरी : रेलवे ने 90 हजार पदों के लिए मांगे आवेदन, अंतिम तिथि 12 मार्च  

मध्यप्रदेश के नीमच निवासी सामाजिक कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ ने बताया कि उनकी आरटीआई अर्जी पर एसबीआई के एक आला अधिकारी ने उन्हें 28 फरवरी को भेजे पत्र में यह जानकारी दी। इस पत्र में बताया गया कि न्यूनतम जमा राशि उपलब्ध नहीं होने पर दंड शुल्क लगाने के प्रावधान के कारण स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा वित्तीय वर्ष 2017-18 में 31 जनवरी तक बंद किए गए बचत खातों की संख्या लगभग 41.16 लाख है।

ये भी पढ़ें- देश से वर्ष 2025 तक टीबी का होगा सफाया, प्रधानमंत्री ने कमर कसी

न्यूनतम जमा राशि नहीं रखे जाने पर जुर्माना वसूली के कारण एसबीआई में बहुत बड़ी तादाद में बचत खातों के बंद होने की चौंकाने वाली जानकारी आज उस वक्त सामने आई, जब देश के सबसे बड़े बैंक ने इस मद में दंड शुल्क को एक अप्रैल से 75 प्रतिशत तक घटाने का अहम फैसला किया है।

ये भी पढ़ें- लखनऊ की बेगम हमीदा हबीबुल्ला का 102 वर्ष की उम्र में निधन

देश में गरीब तबके के लोगों को बैंकिंग प्रणाली से जोड़ने के सरकार के महत्वाकांक्षी अभियान के बीच खासकर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों द्वारा इस मद में जुर्माना वसूली को लेकर लम्बे समय से बहस चल रही है।

ये भी पढ़ें- अगर मांगें माननी थी तो किसानों को क्यों कराया 200 किमी लम्बा मार्च : अन्ना हजारे

गौड़ ने कहा, "अगर एसबीआई इस मद में जुर्माने की रकम को घटाने का निर्णय समय रहते कर लेता, तो उसे 41.16 लाख बचत खातों से हाथ नहीं धोना पड़ता। इसके साथ ही, इन खाताधारकों को परेशानी नहीं होती जिनमें बड़ी तादाद में गरीब लोग शामिल रहे होंगे।"

ये भी पढ़ें- एसबीआई ने न्यूनतम बैलेंस में कटने वाली राशि को 75 प्रतिशत तक किया कम, 25 करोड़ ग्राहकों को मिलेगा फायदा

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top