JNU परिसर में बिरयानी बनाने पर छात्रों पर जुर्माना, ABVP नेता बोले- बीफ बिरयानी थी

JNU परिसर में बिरयानी बनाने पर छात्रों पर जुर्माना, ABVP नेता बोले- बीफ बिरयानी थीजेएनयू।

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के चार छात्रों को कॉलेज कैंपस में बिरयानी पकाना महंगा पड़ गया। चारों छात्रों पर संस्थान ने नियमों का उल्लंघन करने का हवाला देते हुए जुर्माना लगाया है।

बताया जा रहा है कि जेएनयू के एडमिनिस्ट्रेशन ब्लॉक के पास ये चारों छात्र बिरयानी बना रहे थे। मुख्य प्रॉक्टर कौशल कुमार की ओर से जारी नोटिस के अनुसार चार छात्रों पर 6,000 रूपए और 10,000 रुपये के बीच जुर्माना लगाया गया है।

जिन छात्रों पर कार्रवाई की गई है उनमें से एक जेएनयू स्टूडेंट यूनियन के महासचिव शत्रुपा चक्रवर्ती भी हैं। उन पर यूनिवर्सिटी ने 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

ये भी पढ़ें- डीयू-जेएनयू पर मुखर हुए लोग बीफ फेस्ट पर खामोश क्यों : आदित्यनाथ

आरोपों की पुष्टि नहीं

एबीवीपी का आरोप कितना सही है, इस पर अभी तक पुष्टि नहीं की जा सकी है। लेकिन छात्रों को जो सजा दी गई है उसमें आधिकारिक तौर बीफ या फिर किसी और पदार्थ को कोई जिक्र नहीं है। बल्कि छात्रों पर ऑफिस कॉम्प्लेक्स में खाना बनाने और वहीं पर खाने की वजह से नियम तोड़ने के बाद उन पर जुर्माना लगाया गया है।

ये भी पढ़ें- जेएनयू की नई अध्यक्ष यूनाइटेड लेफ्ट की गीता कुमारी चुनी गईं

छात्रों को इस तरह के कामों का दोषी करार दिया गया है जिसे वाइस चांसलर या फिर दूसरी अथॉरिटी ने छात्रों के व्यवहार को अनुशासन तोड़ने वाला करार दिया है। छात्रों को जो आदेश जारी किया गया है उसमें लिखा है, 'आपको एडमिन ब्लॉक के पास स्थित सीढि़यों के पास बिरयानी पकाने और खाने का दोषी पाया जाता है।' एबीवीपी की ओर से जारी प्रचार के बाद यह जुर्माना छात्रों पर लगाया गया है और इस वजह से यह मुद्दा एक राजनीतिक मुद्दा बन गया है। एबीवीपी का आरोप है कि इस मौके पर यूनिवर्सिटी में बीफ पकाया गया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top