विधानसभा चुनाव: मध्यप्रदेश और मिजोरम में मतदान जारी, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

विधानसभा चुनाव: मध्यप्रदेश और मिजोरम में मतदान जारी, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

लखनऊ। मध्यप्रदेश और मिजोरम में बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान हो रहे हैं। मध्यप्रदेश में विधानसभा की सभी 230 सीटों के लिए और मिजोरम की सभी 40 सीटों के लिए मतदान होगा। मतदान के मद्देनजर प्रशासन ने कड़े सुरक्षा इंतजाम किए हैं। वहीं, मध्य प्रदेश में ईवीएम खराब होने की शि‍कायतें भी मिल रही हैं। इंदौर, ग्वालियर, छतरपुर, महाराजपुर विधानसभा सीटों के साथ ही करीब 100 ईवीएम खराब होने की खबरें हैं।

मध्‍य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के सामने अपनी सत्ता बचाने की चुनौती है। वहीं, मिजोरम में कांग्रेस और मिजो नेशनल फ्रंट के बीच मुकाबला है। 40 सदस्यीय मिजोरम विधानसभा सीट के लिए होने वाले चुनाव में मुख्यमंत्री लाल थानहावला हैट्रिक लगाना चाह रहे हैं।


मतदान से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मतदाताओं से वोट करने लिए आग्रह किया और ये ट्वीट किया-



वहीं, पीएम मोदी ने भी मतदाताओं से मतदान के लिए आग्रह किया। उन्‍होंने ट्वीट किया-



मध्य प्रदेश में ईवीएम की खराबी की बात करते हुए कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, हमने चुनाव आयोग को लिखित में शिकायत की है और अनुरोध किया है कि जिन सीटों पर गड़बड़ी हुई वहां मतदान का समय बढ़ाया जाए। इससे गड़बड़ी की वजह से हुई देरी की भरपाई हो सकेगी।


मध्यप्रदेश के 227 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक और बालाघाट जिले के तीन नक्सल प्रभावित विधानसभा क्षेत्रों परसवाड़ा, बैहर एवं लांजी में सुबह 7 बजे से अपराह्न 3 बजे तक मतदान होगा। चुनाव में कुल 5,04,95,251 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इनमें 2,63,01,300 पुरुष, 2,41,30,390 महिलाएं एवं 1,389 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं। इनमें से 65,000 सर्विस मतदाता डाक मतपत्र से पहले ही मतदान कर चुके हैं। बाकी 5,04,33,079 मतदाता आज अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे।

मध्‍य प्रदेश के चुनाव के लिए 1,094 निर्दलीय प्रत्याशियों सहित कुल 2,899 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें से 2,644 पुरुष, 250 महिलाएं एवं पांच ट्रांसजेंडर शामिल हैं। राज्य में 65,367 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें से 17,000 मतदान केन्द्र संवेदनशील घोषित किए गए हैं। इन केन्द्रों पर केन्द्रीय पुलिस बल और वेवकास्टिंग के साथ माइक्रो पर्यवेक्षक भी तैनात किए गए हैं। सभी मतदान केन्द्रों पर मतदान के लिए ईवीएम के साथ वीवीपैट का उपयोग होगा।

इनपुट- (भाषा और ट्विटर)


Share it
Top