गैर सीएचएस चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति आयु 65 साल की गई

गैर सीएचएस चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति आयु 65 साल की गईकैबिनेट बैठक

नई दिल्ली (आईएएनएस)। सरकार के मंत्रालयों व विभागों में तैनात चिकित्सक भी अब 65 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होंगे। इनकी सेवानिवृत्ति आयु 62 साल से बढ़ाकर अब 65 साल कर दी गई है। इस तरह से उन्हें केंद्रीय स्वास्थ्य सेवा (सीएचएस) के चिकित्सकों के समकक्ष कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह फैसला बुधवार को लिया गया। सीएचएस चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की आयु बीते साल बढ़ाकर 65 साल कर दी गई थी। इसे 31 मई 2016 को प्रभावी किया गया।

ये भी पढ़ें : कारोबारियों को सुरक्षित माहौल देने के लिए यूपी में बनेगी एसएसएफ फोर्स

केंद्र सरकार के अन्य चिकित्सा प्रणालियों के चिकित्सकों सहित, गैर सीएचएस चिकित्सक भी सरकार से चिकित्सकों की कमी व सीएचएस से समानता को आधार बनाते हुए सेवानिवृत्ति की आयु 62 साल से बढ़ाने की मांग कर रहे थे। सरकार के बयान में कहा गया है कि कैबिनेट के इस फैसले से भारतीय रेल मेडिकल सर्विस, केंद्रीय विश्वविद्यालयों व आईआईटी व जहाजरानी मंत्रालय के तहत प्रमुख बंदरगाहों सहित केंद्र सरकार के विभागों के 1,445 चिकित्सकों को फायदा पहुंचेगा।

ये भी पढ़ें : योगी सरकार ला रही छह पशुओं की योजना, छोटे किसानों को होगा फायदा

Share it
Share it
Share it
Top