देश

काला हिरण शिकार मामले में सलमान को पांच साल जेल 

जोधपुर। स्थानीय अदालत ने बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को दो काले हिरणों की हत्या के मामले में गुरुवार को पांच साल कारावास की सजा सुनाई, जिसके बाद उन्हें जोधपुर सेंट्रल जेल ले जाया गया।

अभियोजन पक्ष के वकील ने बताया, “अदालत ने इस मामले में आरोपी अन्य कलाकारों सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे, तब्बू, नीलम और एक स्थानीय निवासी दुष्यंत सिंह को ‘संदेह का लाभ’ देते हुए बरी कर दिया।“

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सलमान खान (52) को अदालत परिसर से पुलिस वाहन में जोधपुर सेंट्रल जेल ले जाया गया। चूंकि सलमान को तीन वर्ष से ज्यादा की सजा हुई है, इसलिए उन्हें जमानत के लिए हाई कोर्ट में अर्जी देनी होगी।

सलमान को चौथी बार जोधपुर सेंट्रल जेल ले जाया गया है। इससे पहले वह कुल 18 दिनों के लिए तीन बार वर्ष 1998, 2006 और 2007 में भी जोधपुर जेल में रह चुके हैं। बता दें कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने 1998 में हुई इस घटना के संबंध में 28 मार्च को मुकदमे की सुनवाई पूरी की थी। उन्होंने फैसला सुरक्षित रख लिया था।

यह भी पढ़ें: एससी - एसटी एक्ट : 17 फीसदी दलित वोटर, लोकसभा की आरक्षित 131 सीटें और सियासत

अभियोजन पक्ष के वकील महिपाल बिश्नोई ने बताया, “अदालत ने सलमान खान को पांच साल कारावास और 10,000 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। सलमान खान को अदालत ने वन्यजीव (संरक्षण) कानून के प्रावधान 9/51 के तहत दोषी करार दिया। इस कानून के तहत दोषी को अधिकतम छह साल कैद की सजा हो सकती है।

सलमान पर आरोप था कि उन्होंने जोधपुर के निकट कांकाणी गांव के भागोड़ा की ढाणी में दो काले हिरणों का शिकार किया था। यह घटना हम साथ-साथ है फिल्म की शूटिंग के दौरान अक्टूबर, 1998 की है। काली शर्ट पहने सलमान सुबह अपने अंगरक्षक के साथ अदालत पहुंचे थे।

फैसला सुनाये जाने के वक्त अन्य आरोपी सिने कलाकार भी अदालत कक्ष में मौजूद थे। कुछ के परिजन भी साथ आये थे।

(एजेंसी)

यह भी पढ़ें: भारत बंद पर बिहार के एक डीएसपी का देश के नागरिकों के लिए खुला ख़त

मानसून आख़िर क्या बला है, जिसका किसान और सरकार सब इंतज़ार करते हैं