Top

स्काईमेट ने कहा- केरल में देर से दस्तक देगा मानसून, सभी क्षेत्रों में कम बारिश की आशंका

स्काईमेट ने कहा- केरल में देर से दस्तक देगा मानसून, सभी क्षेत्रों में कम बारिश की आशंका

लखनऊ। मौसम की भविष्यवाणी करने वाली निजी कंपनी स्काईमेट ने मंगलवार को कहा कि केरल में चार जून को मानसून दस्तक दे सकता है, जो देश में बारिश के मौसम की आधिकारिक शुरुआत होगी। केरल में सामान्यत: मानसून शुरू होने की तारीख एक जून है। स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह ने कहा कि इस मौसम में सभी चार क्षेत्रों में सामान्य से कम बारिश होने जा रही है। पूर्व और पूर्वोत्तर भारत तथा मध्य हिस्से बारिश के मामले में उत्तर पश्चिम भारत और दक्षिणी प्रायद्वीप से खराब स्थिति में रहेंगे।

यह भी पढ़ें- Monsoon Forecast: मौसम विभाग ने कहा- सामान्य के करीब रहेगा मानसून, किसानों के लिए अच्छी खबर

मानसून की शुरुआत चार जून के आसपास होगी। ऐसा लगता है कि भारतीय प्रायद्वीप में मानसून का शुरुआती चरण धीमा होने जा रहा है। मानसून के 22 मई को अंडमान और निकोबार द्वीप पर पहुंचने की संभावना है। पिछले महीने स्काईमेट ने मौसम के लिए सामान्य से कम मानसून रहने का अनुमान जताया था।

इससे पहले 15 अप्रैल को भारतीय मौसम विभाग ने अपना पूर्वानुमान जारी किया था। मौसम विभाग ने बताया था कि इस साल मानसून सामान्य के करीब रहेगा। मौसम विभाग ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया था कि इस साल सामान्य के करीब 96 फीसदी बारिश होगी। IMD (मौसम विभाग) ने अलनीनो को लेकर दुनिया भर की एजेंसियों की आशंकाओं को खारिज कर दिया था।

यह भी पढ़ें- मानसून: देश के 641 में से 254 जिलों में हुई कम बारिश, मंडरा रहा सूखे का खतरा

इससे पहले अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों की मौसम एजेंसियों समेत भारत में स्काईमेट ने भी मानसून की चाल पर अलनीनो के असर की आशंका जताई थी। इस साल अलनीनो का असर नहीं होगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि इस मानसून सीजन में देश में लंबी अवधि के औसत की 96 फीसदी बारिश संभव है। इसके पहले आशंका थी कि अलनीनो की वजह से मानसून पर असर पड़ सकता है। मौसम विभाग मानसून का अगला अपडेट जून के पहले हफ्ते में देगा।

(भाषा से इनपुट)

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.