Top

तेलंगाना: किसान और सांपों का दोस्त है ये पुलिसवाला, अब तक पकड़े 500 अजगर और सांप

Arvind ShukklaArvind Shukkla   7 Aug 2018 11:57 AM GMT

तेलंगाना: किसान और सांपों का दोस्त है ये पुलिसवाला, अब तक पकड़े 500 अजगर और सांप

ट्रैफिक पुलिस में होमगार्ड सी कृष्णा सागर इन दिनों अपने इलाके में काफी चर्चा में रहते हैं। किसी के धान में खेत में सांप निकला हो या किसी गांव में अजगर दिखा हो, वो सीधे कृष्णा सागर को फोन करता है। कृष्णा भी जितनी जल्दी हो मौके पर पहुंचने की कोशिश करते हैं।

तेलंगाना में जोगुलंबा गडवाल जिले के वनपर्ती टाउन पुलिस में तैनात होमगार्ड कृष्णा सागर को उनके सहकर्मी और इलाके के लोग सांपों का दोस्त कहते हैं। अब तक वो करीब 500 सांपों और अजगरों को पकड़ चुके हैं। दो दिन पहले ही राजारंगम इलाके में किसान कुम्मरी सिवुधू अपने खेतों में घास काट रहे थे, अचानक उन्हें बड़ा सा अजगर दिखा।


कुम्मरी के फोन पर अपने साथियों के साथ उनके खेत पहुंचे सागर ने अजगर को पकड़ा और वनविभाग की मदद से आवासीय इलाके काफी दूर जंगल में जाकर छुड़वा दिया, कृष्णा सागर हर दूसरे-तीसरे दिन और कई बार दिन में कई बार ये काम करते हैं।

"पांच साल पहले कृष्णा सागर को एक सांप ने डस लिया था, अस्पताल में मामूली इलाज के बाद उन्हें छुट्टी मिल गई। डॉक्टरों ने बताया कि सांप जहरीला नहीं था इसलिए जान बच गई। तभी से कृष्णा सांपों को बचाने में लग गए। क्योंकि सब सांप न किसान को नुकसान पहुंचाते हैं न खेतों को।" ए. सूर्या नायक, इंस्पेक्टर ऑफ पुलिस, वनपर्ती गांव कनेक्शन को फोन पर बताते हैं।

कृष्णा सागर को भाषायी दिक्कत थी, इसलिए सूर्या नायक ने गांव कनेक्शन को उनके कामकाज और सांपों से प्रेम की पूरी कहानी बताई। स्थानीय डिग्री कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर सरदार सैवैया कृष्णा सागर के गुरु हैं। ये लोग मिलकर अब यहां सांपों को न मारे जाने की मुहिम चला रहे हैं। क्योंकि ये किसानों और सांपों, दोनों की भलाई के लिए है, इसलिए विभाग कृष्णा सागर का पूरा साथ देता है।" सूर्या नायक आगे जोड़ते हैं।

किसानों को नहीं पता होता कौन सा सांप जहरीला है कौन सा नहीं। इसलिए वो उनपर हमला कर देते हैं। ऐसे में कृष्णा सागर लोगों को बताते भी हैं कि सांपों को डरना नहीं चाहिए और कैसे उनसे बचाव करना चाहिए। कृष्णा ये काम पूरी तरफ मुफ्त में करते हैं। कई बार शहर से कई किलोमीटर दूर जाना होता है।सूर्या नायक कहते हैं, दूर जाने में खर्चा तो होता है, पैसा विभाग भी देता है और हम लोग भी मदद करते रहते हैं, क्योंकि वो एक अच्छा काम करते हैं। किसान लोग इन्हें बहुत दुआएं देते हैं।" कृष्णा जब ड्यूटी पर होते हैं और उस दौरान कहीं से कॉल आ जाए तो विभाग उनकी जगह दूसरे पुलिसकर्मी की तैनाती कर कृष्णा को मौके पर भेजता है।

जोगुलंबा गडवाल कीपुलिस अधीक्षक रीमा राजेश्वरी (आईपीएस) ट्वीटर पर लिखती हैं, ये हमारे लिए गर्व की बात है कि हमारे पास एक पुलिसकर्मी है जो किसानों की मदद करता हैं सांप पकड़ने में।" वो एक और ट्वीट में लिखती है, स्नेक लवर कॉप।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.