दार्जीलिंग: युवक का शव मिलने के बाद हिंसा फिर भड़की, सीएम ने की शांति की अपील 

दार्जीलिंग: युवक का शव मिलने के बाद हिंसा फिर भड़की, सीएम ने की शांति की अपील पथराव व तोड़फोड़ के बाद हालात। फोटो : साभार इंटरनेट

दार्जिलिंग। दार्जिलिंग के सोनाडा में आज एक युवक का शव बरामद होने के बाद फिर से यहां हिंसा भड़क गई है। प्रदर्शन कर रहे लोगों का आरोप है कि पुलिस ने आधी रात को उस वक्त युवक को गोली मार दी थी, जब वह घर जा रहा था। इस मामले में अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है कि मृतक ताशी भूटिया गोरखा नेशनल लिबरेशन फ्रंट का सदस्य था या गोरखा जन मुक्ति मोर्चा का।

तृणमूल नेताओं ने इस मामले में जांच की मांग की है। वहीं, गोरखालैंड समर्थकों ने स्थानीय पुलिस स्टेशन पर हंगामा व पथराव किया। पुलिस को भीड़ पर काबू करने के लिए आंसू गैस छोड़ने पड़े। आपको बता दें कि अलग राज्य की मांग को लेकर दार्जिलिंग में पिछले 24 दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी है।

संबंधित खबर : बंगाल में सांप्रदायिक हिंसा : भाजपा ने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

पश्चिम बंगाल की मख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दार्जीलिंग हिल्स के राजनीतिक दलों से शांति के पथ पर लौटने की अपील करते हुए बातचीत के लिए आने को कहा है। उन्होंने कहा कि सरकार पर्वतीय पार्टियों से वार्ता के लिए तैयार है। अगर 10-15 दिनों में शांति कायम हो जाती है तो वे पर्वतीय क्षेत्र की पार्टियों को वार्ता के लिए बुला सकती हैं।

केंद्र पर सहयोग नहीं करने का आरोप

सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र पर जानबूझ कर सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया। उल्लेखनीय है कि इस समय दार्जीलिंग में स्कूल कालेज बंद हैं। लोगों को भोजन व अन्य जरूरी चीजें नहीं मिल पा रही। उन्होंने कहा कि भीड़ से इतर पर्वतीय पार्टियों के नेता सिक्किम और नेपाल से अपने सामान मंगा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पर्वतीय इलाके के लोगों को भोजन उपलब्ध कराएगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top