यूजीसी ने दिया बीएचयू व एएमयू से हिंदू और मुस्लिम शब्द हटाए जाने का सुझाव  

यूजीसी ने दिया बीएचयू व एएमयू से हिंदू और मुस्लिम शब्द हटाए जाने का सुझाव  विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी)।

नई दिल्ली (भाषा)। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के एक पैनल ने सुझाव दिया है कि काशी हिंदू विश्वविद्यालय और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के नामों से हिंदू और मुस्लिम जैसे शब्दों को हटाया जाना चाहिए क्योंकि ये शब्द इन विश्वविद्यालयों की धर्मनिरपेक्ष छवि को नहीं दिखाते हैं।

इस पैनल का गठन 10 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में कथित अनियमितताओं की जांच के लिए किया गया था। पैनल ने ये सिफारिशें एएमयू की लेखा परीक्षा रिपोर्ट में की हैं।

पैनल के एक सदस्य ने बताया कि केंद्र सरकार से वित्तपोषित विश्वविद्यालय धर्मनिरपेक्ष संस्थान होते हैं लेकिन इन विश्वविद्यालयों के नाम के साथ जुड़े धर्म से संबंधित शब्द संस्थान की धर्मनिरपेक्ष छवि को नहीं दर्शाते हैं।

पैनल के सदस्य ने कहा कि इन विश्वविद्यालयों को अलीगढ़ विश्वविद्यालय और काशी विश्वविद्यालय कहा जा सकता है अथवा इन विश्वविद्यालयों के नाम इनके संस्थापकों के नाम पर रखे जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें:नैक ‘ए’ ग्रेड काॅलेजों को यूजीसी का वेतनमान रहेगा जारी

एएमयू और बीएचयू के लिए अलावा जिन विश्वविद्यालयों की लेखा परीक्षा की गई है उनमें पांडीचेरी विश्वविद्यालय, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, हेमवती नंदन बहुगुणा गढवाल विश्वविद्यालय, झारखंड केंद्रीय विश्वविद्यालय, राजस्थान केंद्रीय विश्वविद्यालय, जम्मू केंद्रीय विश्वविद्यालय, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, त्रिपुरा विश्वविद्यालय और हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय शामिल है।

ये भी पढ़ें:यूजीसी नेट का नोटिफिकेशन जारी, बिना आधार कार्ड नहीं भर पाएंगे फॉर्म

ये भी पढ़ें:को लेकर यूजीसी ने समाप्त की अनिश्चितता, सीबीएसई ही कराएगी परीक्षा

ये भी पढ़ें:यूजीसी का विश्वविद्यालयों को निर्देश: डिग्री में फोटोग्राफ, आधार को जोड़ें

Share it
Top