विश्व मानवाधिकार दिवस- जानें कैसे लड़ें अपने हक़ की लड़ाई ? 

विश्व मानवाधिकार दिवस- जानें कैसे लड़ें अपने हक़ की लड़ाई ? विश्व मानवाधिकार दिवस 

मानवाधिकार दिवस हर साल 10 दिसंबर को दुनिया भर में मनाया जाता है। वर्ष 1948 में पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 10 दिसंबर को हर साल इसे मनाये जाने की घोषणा की गयी थी। इसे सार्वभौमिक मानव अधिकार घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा के सम्मान में प्रतिवर्ष इसे विशेष तिथि पर मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में मानव अधिकार दिवस आधिकारिक तौर पर 1950 में 4 दिसंबर को स्थापित किया गया था।

आइये जानिये कैसे हम कोई शिकायत इसमें दर्ज करवा सकते हैं -

राष्‍ट्रीय मानव अधिकार आयोग (National Human Rights Commission) की वेबसाइट

http://nhrc.nic.in है। इस वेबसाइट को ओपन करने के बाद आपको चार तरह के ऑप्‍शन दिखेंगे। इसमें सबसे ऊपर 'ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण' का ऑप्‍शन होगा। इसे क्लिक करते ही आपका शिकायत फॉर्म खुल जाएगा।

पहली स्लाइड

ऑनलाइन कंप्‍लेंट रजिस्‍ट्रेशन फॉर्म

इस फॉर्म के खुलते ही इसमें सबसे पहले उस व्‍यक्ति की पर्सनल डिटेल (नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि) भरनी होगी, जो यह फॉर्म भर रहा है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि कई बार पीड़ित व्यक्ति शिकायम करने से डर जाता है या घबरा जाता है। ऐसे में आप विक्‍टिम की जगह पर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। यहां आपको यह भी ध्‍यान रखना होगा कि इस डिटेल के साथ ही दाहिनी तरफ 'Self' का ऑप्‍शन भी है, यानी कि अगर पीड़ित ही यह फॉर्म भर रहा है तो वह सेल्‍फ पर टिक करेगा।

दूसरी स्लाइड

पीड़ित की डिटेल

इसके बाद दूसरा नंबर आता है पीड़ित की डिटेल का। इसमें उस व्यक्ति की डिटेल भरी जाएगी जिसके साथ हादसा हुआ है। इसमें नाम, पता, उम्र और धर्म आदि भरना पड़ेगा।

तीसरी स्लाइड

क्‍या है मामला

इसके बाद तीसरी डिटेल है 'घटनाक्रम' की। यानी कि पीड़ित के साथ क्‍या हुआ वह इसमें जिक्र करेगा। इसमें घटना कहां पर हुई और किस तारीख को हुई...यह लिखना अनिवार्य है। इसके ठीक नीचे रिलीफ डिटेल भरी जाएगी।

चौथी स्लाइड

अंत में जब पूरा फॉर्म भर जाएगा, तो आखिर में नीचे लिखे कैप्चा को भरकर 'अपडेट' बटन दबा दें। इसके बाद आपकी शिकायत दर्ज हो जाएगी।

अंतिम स्लाइड

Share it
Top