अब गाँव रेडियो के जरिए ग्रामीण भारत की आवाज़ बनेगा गाँव कनेक्शन

गाँव कनेक्शन ने 15 अगस्त को आज़ादी के उत्सव के दिन अपनी वेबसाइट पर 'गाँव रेडियो' लॉन्च कर दिया है। यह पहल ग्रामीण और शहरी क्षेत्र की बीच की दूरी को कम करने का प्रयास है।

भारत के 15 अगस्त को अपने 76वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर, गाँव कनेक्शन शहर और गाँव के बीच की दूरी कम करने के लिए अपनी नई पहल - गाँव रेडियो- लॉन्च कर दिया है।

आज़ादी के उत्सव पर गाँव रेडियो खास कार्यक्रमों की श्रृंखला लेकर आया है, सुबह की शुरूआत भोर कार्यक्रम से होगी, साथ ही बहुत सारे ऐसे कार्यक्रम हैं, जिन्हें आप गाँँव कनेक्शन की वेबसाइट पर सुन सकते हैं।


गाँव रेडियो के लॉन्च से पहले देश के पंसदीदा स्टोरीटेलर और गाँव कनेक्शन के फाउंडर नीलेश मिसरा ने कहा कि नई पहल शहर के लोगों को उनकी ग्रामीण जड़ों से जुड़ने के लिए एक मंच उपलब्ध करा रहा है।

15 अगस्त को, गाँव रेडियो में वो पहली आज़ाद सुबाह, आज़ादी क्या है?, शौर्यगाथा, भगत सिंह की चिट्ठी, आज ही के दिन, चंपारण में गांधी जी और रानी लक्ष्मी जैसे शो होंगे।

15 अगस्त के बाद अपने दैनिक प्रसारणों में, गाँव रेडियो में मौसम की अपडेट, महिला सशक्तिकरण, बच्चों के मनोरंजन और देश के ग्रामीण क्षेत्रों में की तीज त्योहारों पर भी बात की जाएगी।

यह पूरा कार्यक्रम आप गाँव कनेक्शन की वेबसाइट पर सुन सकते हैं।

आने वाले हफ्तों में, गाँव रेडियो में खेती-किसानी के कृषि विशेषज्ञों के जरिए किसानों तक जानकारी उपलब्ध करायी जाएगी तो वहीं चिकित्सक सेहत की बातें भी करेंगे।

यही नहीं गाँव रेडियोग ग्रामीण क्षेत्र की ऐसी कला और कलाकारों को मौका देगा जो कहीं खो से गए हैं।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.