जून तक दिल्ली में लापता हुए 3,500 बच्चे

जून तक दिल्ली में लापता हुए 3,500 बच्चेgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्र सरकार ने बुधवार को बताया कि इस साल जून तक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में 3,540 बच्चे लापता हो गए जिनमें से 2,259 को ढूंढ निकाला गया।

गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 12 से 18 वर्ष के कुल 2,831 बच्चे लापता हुए जिनमें 1,782 बच्चों को ढूंढ लिया गया जबकि पिछले साल इसी उम्र के कुल 6,208 बच्चे लापता हो गए थे, जिनमें 4,604 को खोज निकाला गया।

उन्होंने बताया कि इस साल जून तक आठ से 12 साल की उम्र के 348 बच्चे लापता हुए जिनमें से 253 को खोज लिया गया। इसी प्रकार आठ साल तक की उम्र के 361 बच्चे लापता हुए जिनमें से 224 को खोज लिया गया। 

रिजिजू ने कहा कि देश भर में बच्चों के लापता होने के कई कारण होते हैं। उन्होंने कहा कि इस संबंध में दिल्ली लीगल सर्विस अथारिटी ने एक अध्ययन कराया है जो दिल्ली सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से जुड़ा हुआ है।

इस अध्ययन में पाया गया कि करीब 30 प्रतिशत बच्चे अपनी इच्छा से घर छोड़कर चले जाते हैं। इसके अलावा 10 प्रतिशत मामलों में शिक्षा का दबाव, 8.5 प्रतिशत मामलों में रास्ता भटक जाना, 8.2 प्रतिशत मामलों में पारिवारिक वजहें, करीब 11 प्रतिशत मामलों में प्रेम-प्रसंग जैसी वजहें शामिल हैं। 4.1 प्रतिशत मामलों में अस्थिर मानसिक स्थिति भी वजह है।

इसके साथ ही उन्होंने इस बात से इंकार किया कि फंड की कमी के कारण बच्चों को खोजने का कोई मामला रुका हुआ है। उन्होंने कहा कि पर्याप्त फंड मौजूद है और इस वजह से कोई मामला नहीं रुका हुआ है। इसके साथ ही पूरे देश में एक व्यवस्था है जिसके तहत राज्य एक दूसरे को सहयोग करते हैं।

Tags:    India 
Share it
Top