खाद्य सामग्रियों व किराने के सामान की आनलाईन बिक्री के लिए शुरू हुआ ट्राइब नेशन एेप 

खाद्य सामग्रियों व किराने के सामान की आनलाईन बिक्री के लिए शुरू हुआ ट्राइब नेशन एेप ट्राइब नेशन ऐप।

बेंगलूर (भाषा)। खाद्य सामग्रियों व किराने के सामान की आनलाईन बिक्री के लिए विकसित किए गए एक मोबाइल एेप, ट्राइब नेशन ने आज से बेंगलूर में अपना परिचालन शुरू किया है, जिसमें बॉलीवुड अभिनेता और गायक लकी अली तथा एक स्थानीय उद्यमी ने निवेश किया हुआ है।

ट्राइब नेशन एक आसानी में उपयोग में लाया जा सकने वाला एेप मॉडल है जिसके जरिए स्थानीय किसानों के उगाए गए किराने के सामानों और ताजा खाद्य उत्पादों को आसानी से ग्राहकों को उपलब्ध कराया जा सकता है और कीमतों के उतार चढ़ाव आने की चिंता को खत्म किया जा सकता है। ट्राइब नेशन के सह.संस्थापक और ब्रांड एम्बेसेडर लकी अली ने यह जानकारी दी है।

वित्तवर्ष 2018 के अंत तक इस आनलाईन मंच का ध्येय 30 करोड़ डॉलर (करीब 2,000 करोड़ रुपए) का कारोबार हासिल करने का स्तर हासिल करने का है।

अली ने कहा कि ट्राइब नेशन एक एेप है जिसका ग्राहक बना जा सकता है और जो ग्राहकों को गांव के किसानों के हाथ से तोड़े गए, अपने हाथ से साफ किय गए, स्वच्छ, ताजा, खेतों में उगे उत्पादों को सीधा ग्राहकों को पहुंचाने की सुविधा देता है। उन्होंने कहा कि बेंगलूर से शुरू करने के बाद हमारी आने वाले वर्षों में इसकी सूची में हैदराबाद और पुणे को भी जोड़ने का उद्देश्य है।

अली ने कहा कि ट्राइब नेशन अपने में विशिष्ट है जिसे वह नैतिक व्यवसाय कहना पसंद करेंगे जो किसानों और ग्राहकों दोनों को लाभ पहुंचाता है और दोनों को एकसाथ समृद्ध भी करता है।

उन्होंने कहा, हम खुद को स्टार्ट अप भी कहलाना नहीं चाहते क्योंकि उनका दर्शन धन उगाहना और अपना अस्तित्व कायम रखना है, हमारा यह सोचना नहीं है, हम अपने ट्राइब नेशन को नैतिक व्यवसाय कहना चाहेंगे। उन्होंने कहा, ट्राइब नेशन ग्राहकों को कम लागत पर सामग्रियां उपलब्ध कराके हमारे किसानों को बेहतर लाभ कमाने में मदद करेगा। अली ने कहा कि हालांकि ट्राइब नेशन धन की एकत्रीकरण अपने अस्तित्व को बनाये रखने के लिए नहीं बल्कि कंपनी के रूप में विकसित करने के लिए करेगा।

अली ने कहा कि जुटाए गए धन का उपयोग नई कृषि प्रौद्योगिकियों को प्राप्त करने के लिए किया जाएगा जो किसानों को अपने उत्पादों को अधिक वैज्ञानिक तरीके से उगाने में लाभ पहुंचायेगा।उन्होंने कहा, हम कृषि प्रौद्योगिकियों को इस्तेमाल में लाने के लिए पश्चिम एशिया के देशों के साथ वार्ता कर रहे हैं।

ट्राइब नेशन के संस्थापक एवं प्रबंध निदेशक उमा महेश ने कहा कि कंपनी के बोर्ड में 100 से अधिक किसान हैं और पिछले 60 दिनों में 700 से अधिक वार्षिक ग्राहक आधार है और इसके लिए आंतरिक स्रोतों से धन जुटाया गया है।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

महेश ने कहा कि कंपनी की कोर टीम में 20 पेशेवर हैं और जो पिछले चार वर्षों में जुट कर काम कर रहे हैं। आरंभिक परीक्षण के चरण के बाद इस उद्यम की एक डिजिटल विपणन अभियान शुरू करने तथा ग्राहकों तक सीधी पहुंच कायम करने का कार्यक्रम शुरू करने की योजना है, जिसमें अधिक से अधिक लोगों को इस एेप का इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top