मेरठ में तेज बारिश के साथ गिरे ओले, किसानों की चिंता बढ़ी

मेरठ में तेज बारिश के साथ गिरे ओले, किसानों की चिंता बढ़ीमेरठ में तेज बारिश के साथ गिरे ओले को दिखाता किसान।

नितिन काजला, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

मेरठ। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ और बाग़पत जिले के कई हिस्सों में शनिवार दोपहर तेज बारिश और ओलावृष्टि हुई। बारिश और ओलावृष्टि से सरसों और गेहूं की फसल को नुकसान होने की आशंका से किसानों की चिंता बढ़ गई है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

किसानों ने बताया कि मेरठ के कई इलाकों में दोपहर से ही बादल मंडराने लगा था। करीब चार बजे तेज बारिश के साथ-साथ बड़े-बड़े बर्फ के ओले गिरने लगे। बेसमय हुई बारिश के कारण राहगीरों को परेशानी उठानी पड़ी। महीनों से किसान खेत में फसल लगाकर उसकी सेवा कर रहा था। अब जब फसल काटने के समय है, बारिश से फसल खराब हुयी। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। किसान दीपक शर्मा बताते हैं कि गेंहू और सरसों की फसल के लिए यह बरसात और ओलावृष्टि नुकसानदायक है। बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि होने से सरसों और गेहूँ की फसल चौपट हो गई है। हम लोग खेत से फसल काटने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन बारिश के कारण सब कुछ चौपट हो गया।

तेज बारिश के साथ ओले गिरने से दिन का तापमान 40.1 से गिरकर 30.8 डिग्री पहुंच गया। इससे पहले मौसम विभाग ने चौबीस घण्टों में प्रदेश के कुछ स्थानों पर बरसात के साथ ओलावृष्टि की संभावना जताई थी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top