किसान रथ किसानों को देगा खेती की जानकारी

किसान रथ किसानों को देगा खेती की जानकारीgaoconnection

लखनऊ। प्रदेश में इस बार 50 दिन किसान रथ सेवा से किसानों को खरीफ फसलों के बारे में जानकारी दी जाएगी। कृषि विभाग के 23 रथ छह जून से 28 जुलाई तक 1250 गाँवों में जाएगी। 

रथ में सवार कृषि विज्ञेषज्ञ रथ में लगे प्रोजेक्टर और प्रश्नोत्तर के द्वारा किसानों को फसलों की बुवाई आदि की जानकारी देंगे। ये जानकारी उप निदेशक प्रसार शिक्षा एवं प्रशिक्षण ब्यूरो विनोद कुमार सिंह ने दी। उन्होंने बताया, “रथ प्रदेश के सभी मंडलों के हर ब्लॉक के एक गाँव में रुकेगा। 

इस रथ में कृषि वैज्ञानिकों और प्रशिक्षित एमएसी कृषि स्नातक रथ में लगे प्रोजेक्टर के जरिए किसानों को आधुनिक खेती के तरीके की जानकारी देंगे। विशेषज्ञ किसानों को खरीफ फसलों के बीजों, उवर्रक, कीट नाशक, कृषि रक्षा रसायन के बारे में बताएंगे।

 इसके साथ ही फसली ऋण और केसीसी किसान क्रेडिट कार्ड, सोलर पम्प, एग्री जंक्शन आदि योजनाओं की भी जानकारी से किसानों को अवगत कराएंगे।” उन्होंने आगे बताया, “मंडल के जिलों के हिसाब से रथ जिलों के भेजा गया हैं। बुंदेलखंड के सात जिलों में तीन, लखनऊ मंडल में दो किसान रथों से कृषि सम्बंधी जानकारी दी जा रही है।”

क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति के हिसाब से देंगे जानकारी

प्रदेश एग्रोक्लाइमेटिक रूप से नौ जोन में बंटा है। भावर व तराई, पश्चिमी मैदानी, मध्य मैदानी, दक्षिण पश्चिमी अर्द्ध शुष्क, पश्चिमी-मध्य मैदानी, बुंदेलखंड, उत्तर पूर्वी मैदानी, पूर्वी मैदानी और विध्य क्षेत्र में बंटा हुआ है। इन क्षेत्रों के हिसाब से प्रदेश में फसलों का उत्पादन और उनके लिए उपयुक्त बीजों, फसलों की अवधि और उत्पान के बारे में विशेषज्ञ किसानों को जानकारी देंगे। 

चुनावी वर्ष होने के कारण बढ़ी अवधि

प्रदेश में वर्ष 2017 में विधानसभा चुनाव होना है। इसे देखते हुए इस बार किसान सेवा रथ की अवधि बढ़ाई गई है। तीन पहले किसान सेवा रथ से 40-40 दिन रबी और खरीफ फसलों की जानकारी किसानों की दी जाती थी। उप निदेशक प्रसार शिक्षा एवं प्रशिक्षण ब्यूरो विनोद कुमार सिंह ने बताया कि रबी फसलों के दौरान विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू हो जाएगी। इसे देखते हुए खरीफ फसलों की जानकारी देने के लिए इसकी अवधि बढ़ा दी गई है। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top