लावारिस बच्चों की सूचना न देने पर वात्सल्य ग्राम संस्था को नोटिस

लावारिस बच्चों की सूचना न देने पर वात्सल्य ग्राम संस्था को नोटिसgaonconnection

मथुरा (भाषा)। उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन मार्ग पर स्थित साध्वी रितंभरा के एनजीओ परमशक्ति पीठ द्वारा अनाथ बच्चों एवं महिलाओं के लिए संचालित वात्सल्य ग्राम संस्था को मिलने वाले लावारिस बच्चों की सूचना बाल कल्याण समिति को न दिए जाने पर समिति प्रमुख ने संस्था को नोटिस भेजा है।

जिला बाल कल्याण समिति की सदस्य अधिवक्ता प्रतिभा शर्मा ने मीडिया को बताया कि जिला बाल कल्याण समिति को सूत्रों से पता चला है कि हाल ही में एक लावारिस बच्चा वात्सल्य ग्राम को सौंपा गया था, लेकिन संस्था ने तीन दिन बाद भी इस संबंध में कोई विधिक सूचना समिति को नहीं दी है ऐसा पहले भी हो चुका है।

उन्होंने कहा कि बाल अधिकार संरक्षण कानून 2005 के तहत इस प्रकार प्राप्त हुए किसी भी बच्चे के बारे में सबसे पहले जिला बाल कल्याण समिति को सूचित किया जाना जरूरी है।

इस मामले में वात्सल्य ग्राम के जनसंपर्क अधिकारी उमाशंकर राही ने कहा कि संस्था इस प्रकार की सभी सूचना नियमित तौर पर राज्य बाल कल्याण समिति को भेजती आई है और यदि स्थानीय इकाई को यह लगता है कि उसे भी सूचना उपलब्ध कराई जाए, तो उन्हें इसमें भी कोई आपत्ति नहीं होगी।

Tags:    India 
Share it
Top