लखनऊ में 8 मार्च से लगेगी हस्तशिल्प प्रदर्शनी

लखनऊ में 8 मार्च से लगेगी हस्तशिल्प प्रदर्शनीGaon Connection

लखनऊ। हस्तशिल्प को प्रोत्साहन और उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए लखनऊ के मोतीमहल लॉन में 8 मार्च से दस दिवसीय हस्तशिल्प बाज़ार का आयोजन किया जा रहा है। 

देश-प्रदेश के हस्तशिल्पियों द्वारा बनाएं गए हस्तशिल्प को प्रोत्साहित एवं उनके हस्तशिल्प उत्पादों की बिक्री के लिए गाँधी शिल्प बाजार आयोजित किया जा रहा है। गाँधी शिल्प बाजार में अलग-अलग राज्यों से आए कुशल कारीगर अपने उत्पादों प्रदर्शनी लगाएंगे। इसमें उत्तर प्रदेश के चिकन, ब्रास, वुड, सिल्क साड़ी, टेराकोटा, ज़री-ज़रदोजी, कारपेट, लेदर गुड्स तथा अन्य राज्यों के मेटल क्राफ्ट, काष्ठ कला, बेंत व बांस शिल्प, फुलकारी, ट्राइबल ज्वैलरी, कलात्मक खिलौने, जामदानी, पैथनी, मिनिचेयर पेंटिं,  हैंडब्लाक प्रिन्टिंग, सिरामिक्स लेदर क्राफ्ट, मारवल, पाटरी, बंधनी, कलात्मक चूड़ियाँ, कलमकारी प्रिन्ट आदि का प्रदर्शन एवं विक्रय किया जायेगा। इस दस दिवसीय बाज़ार का आयोजन यूपी हैण्डीक्राफ्ट्स डेवलपमेन्ट एण्ड मार्केटिग कारपोरेशन लि. और केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार सहयोग से हो रहा है।  

प्रदर्शनी में विभाग की तरफ से जारी कार्ड धारक कारीगरों/हस्तशिल्पियों को निशुल्क स्टाल दिये जाने की व्यवस्था है तथा दूसरे राज्यों से आने वाले कारीगरों/हस्तशिल्पियों को यात्रा भी भत्ता दिये जाने का प्रावधान किया गया है।

कार्यक्रम का समय 

गाँधी शिल्प बाज़ार 8 मार्च से 17 मार्च हर रोज सुबह 11 बजे से रात्रि के 8 बजे तक चलेगा। इसमें प्रवेश निशुल्क रहेगा। इस प्रदर्शनी में कारीगरों और हस्तशिल्पियों द्वारा सीधे ग्राहकों को अपने उत्पादों की बिक्री की जायेगी, जिससे ग्राहक उचित दरों पर सामान खरीद सकेंगे।

Tags:    India 
Share it
Top