Read latest updates about "गांव चौपाल" - Page 1

  • एक गांव ऐसा, जहां कुछ भी छू नहीं सकते आप

    हिमाचल प्रदेश के कुल्लू क्षेत्र एक गांव है मलाणा, ये इतना खूबसूरत और अद्भुत है कि लोग यहां खिंचे चले आते हैं... लेकिन यहां घूमने की एक शर्त भी है.. यहां खरीददारी करने का नियम भी बहुत अजीब है, पढ़िए खास गांव की कहानीलखनऊ। भारत के हर हिस्से में कोई न कोई अनोखी परम्परा जुड़ी है। आज आपको एक गांव की ऐसी...

  • "कहती थीं न अम्मा! हाय हर चीज़ की बुरी"

    नमस्ते साथियों, गांव कनेक्शन मेरा बहुत पुराना है। सच कहें तो भीतर मेरे एक गांव की लड़की आज भी रहती है। जिसने बैलगाड़ी में से खींच कर गन्ने चुराए हैं। मैं याद करती हूं वो दिन जब गांव में घर ज्यादा होते थे, बाज़ार कम। खेत घरों से ज़्यादा और हर गांव के बाहर एक जंगल होता था। हवा शुद्ध होती थी और...

  • पारी नेटवर्क का विशेष लेख : 2,000 घंटे के लिए गन्ना कटाई

    पार्थ एम.एन / PARIपांच महीने से अधिक समय तक, स्वास्थ्य जोखिम, कम मजदूरी और अपने बच्चों की शिक्षा के नुकसान के बावजूद उमेश केदार एक हंसिया उठाते हैं, आगे झुकते हैं और गन्ने को जड़ से छीलने लगते हैं। वह तुरंत अगले गन्ने की ओर बढ़ते हैं। फिर दूसरा, और तीसरा। गन्ना काटने में ताकत और बल लगता है, और वह...

  • सब्जी मसालों में ग्रामीण महिलाएं लगा रहीं हैं देसी तड़का...

    गांव की चीजें शुद्ध होती हैं, इसमें कोई दो राय नहीं। खासकर जंगली और पहाड़ी इलाकों की फसलें और जड़ी बूटियां बेहद असरदार मानी गई हैं। नेपाल की तराई में उगने वाली हल्दी, धनिया और दूसरी फसलों से आदिवासी महिलाएं जो सब्जी मसाले और अचार बना रही हैं उनकी मांग लगातार बढ़ रही है..श्रावस्ती। आदिवासी महिलाएं...

Share it
Share it
Share it
Top