Read latest updates about "गांव चौपाल" - Page 1

  • सब्जी की खेती कर किसान ने बेटे को बनाया प्रोफेसर

    गोरखपुर। नाम है रामवृक्ष। काम भी है वृक्ष के छाए की तरह। तभी तो परिवार की माली हालत ठीक नहीं होने के बावजूद दिनरात मेहनत कर जिंदगी की गाड़ी को पटरी पर ला दिया। ऐसे पिता के हौसले को सलाम, जिन्होंने खेत में सब्जी उगाकर अपनी बगिया को संवार लिया। उनके दो बेटों के अलावा एक भी बेटी है। तीनों काफी होनहार...

  • इंटरनेट की मदद से ग्रामीण राजस्थानी महिलाओं ने कशीदाकारी को दी नई पहचान

    बीकानेर (राजस्थान)। वो महिलाएं और लड़कियां जो कभी शहरों में जाकर ईंट-सीमेंट ढोती थीं, दूसरों के खेतों में मजदूरी करती थीं, आज वो अपने हुनर से लोगों को अपना मुरीद बना रही हैं। रेगिस्तान की महिलाओं की कशीदाकारी (कपड़ों पर कढ़ाई) बड़े-बड़े शोरुम में जलवे दिखा रही है। और ये सब हुआ है इंटरनेट के चलते। ...

  • 'नोटबंदी, गांव बंदी के बाद अब वोटबंदी होगी'

    हरदा (मध्य प्रदेश)। "पहले देश में नोटबंदी हुई, जिसने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया, किसानों को नुकसान हुआ। फिर सरकारों और प्रशासन के नजरिए से परेशान होकर किसानों ने 'गांव बंदी'की, अगर अब भी किसानों की आवाज़ नहीं सुनी गई तो अब 'वोटबंदी'होगी। चुनावों में किसान उसे ही अपना समर्थन देंगे जो उनके हक की...

  • बाल मजदूरी छोड़ बच्चों ने पकड़ी स्कूल की डगर

    मेरठ। जिस उम्र में बच्चे बेपरवाह रहते हैं उसी उम्र में एक लड़की ने न केवल बाल मजदूरी के खिलाफ आवाज उठायी, बल्कि अपने गाँव के बच्चों को स्कूल तक भी पहुंचाया, आज उनके गाँव के सभी बच्चे स्कूल जाते हैं।मेरठ जि़ले के जानी ब्लॉक के सिसोला गाँव की बीना पवार (19 वर्ष) खुद एक गरीब परिवार से हैं। मेरठ जिले...

Share it
Share it
Share it
Top