लोगों पर कर का बोझ बढ़ाने के लिए केंद्र ज़िम्मेदारः ममता बनर्जी

लोगों पर कर का बोझ बढ़ाने के लिए केंद्र ज़िम्मेदारः ममता बनर्जीgaonconnection

कोलकाता (भाषा)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों पर कर का बोझ बढ़ाने और सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य करने को लेकर केंद्र पर निशाना साधा।

बनर्जी ने कहा कि सेवाकर और उपकर के जरिए लोगों पर खर्च का बोझ बढ़ाया जा रहा है। यहां तक कि मेडिक्लेम का बिल तक 17,000 रुपये से बढ़कर 30,000 रुपए पहुंच गया है। मुख्यमंत्री ने आधार कार्ड के लिए केंद्र की आलोचना करते हुए कहा कि 20-30 प्रतिशत लोगों के पास अब भी यह कार्ड नहीं है।

उन्होंने कहा कि जिन गरीब लोगों के पास यह कार्ड नहीं है, वे सरकारी योजनाओं के लाभ और धन से वंचित हो जाएंगे। नई सरकार की पहली प्रशासनिक समीक्षा बैठक के बाद बनर्जी ने कहा कि उन्होंने विधानसभा चुनावों के चलते पिछले कुछ महीनों से लंबित सभी विकास कार्यों को दोबारा शुरु करने के निर्देश दिए है।

पश्चिम बंगाल को मिला योजनागत व्यय बजट बहुत कम

पिछले वित्त वर्ष 2015-16 में राज्य का योजनागत व्यय बजट 49,507 करोड़ रुपए का था, लेकिन वास्तविक खर्च 53,010 करोड़ रुपए रहा। उन्होंने कहा, ‘‘अन्य राज्यों में योजनागत व्यय की कुल राशि खर्च नहीं की जाती है, लेकिन हमारा व्यय 15 प्रतिशत अधिक रहा।'' नए वित्त वर्ष 2016-17 के लिए वित्त विभाग ने 11,573 करोड़ रुपए जारी किए हैं, जिसके तत्काल उपयोग की दिशा में कदम उठाने के निर्देश जारी किए गए हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top