अभी भी मुझे जो अच्छा लगता है, वही करती हूं : श्रुति हासन  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   22 Feb 2017 4:23 PM GMT

अभी भी मुझे जो अच्छा लगता है, वही करती हूं : श्रुति हासन  अभिनेत्री श्रुति हासन।

चेन्नई (आईएएनएस)। अभिनेत्री श्रुति हासन का मानना है कि सिनेमा ने उन्हें मजबूत बनाया है। अभिनेत्री का कहना कि आज भी वह पहले वाली श्रुति हैं, जिन्हें जो करना पसंद होता है, वही करतीं हैं और अपने दोस्तों के लिए हमेशा उपलब्ध रहतीं हैं। अभिनेत्री का कहना है कि एक कला के रूप में देखने पर यह (सिनेमा) आपकी दुनिया बन जाता है।

श्रुति ने मुलाकात में कहा, "मैं आठ साल से अभिनय की दुनिया में हूं। जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं तो मुझे अहसास होता है कि सिनेमा ने मुझे मजबूत बनाया है। (अभिनेत्री) सारिका और (अभिनेता) कमल हासन की बेटी के रूप में पली-बढ़ी होने के बावजूद मुझमें कुछ बदलाव नहीं आया है। मैं आज भी अपने दोस्तों के लिए वही शख्सियत हूं और अभी भी मुझे जो अच्छा लगता है, वही करती हूं।"

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

श्रुति के करियर की शुरुआती फिल्में 'लक', 'अनागनागा ओ धीरुदु' और '7एएम' असफल साबित हुई थीं, लेकिन उनका कहना है कि उन्हें इन फिल्मों को करने का कोई अफसोस नहीं है। अभिनेत्री का कहना है कि एक कलाकार अकेले फिल्म की असफलता के लिए जिम्मेदार नहीं होता। फिल्म की किस्मत और कई चीजों पर भी निर्भर करती है।

श्रुति के करियर को ऊंचाई पवन कल्याण अभिनीत तेलुगू फिल्म 'गब्बर सिंह' से मिली। यह फिल्म 'दबंग' की रीमेक है। श्रुति ने कहा कि वह पवन कल्याण की हमेशा आभारी रहेंगी, जिन्होंने उन्हें इस फिल्म में काम करने का मौका दिया।

श्रुति को फिल्म 'सिंगम' श्रृंखला की तीसरी फिल्म 'एस13' का हिस्सा बनने पर भी गर्व है। यह फिल्म काफी सफल रही है। अभिनेत्री को काम में व्यस्त रहना पसंद है और उनका कहना है कि उन्हें अपने काम से बेहद प्यार भी है। इस वक्त उनके पास तीन फिल्में हैं जिनमें बड़े बजट की तमिल फिल्म 'संघमित्रा' भी शामिल है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top