हरामखोर जैसी फिल्मों ने मेरे अंदर के कलाकार को जिंदा रखा है : नवाजुद्दीन  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   21 Jan 2017 11:57 AM GMT

हरामखोर जैसी फिल्मों ने मेरे अंदर के कलाकार को जिंदा रखा है : नवाजुद्दीन  अभिनेता नवाजुद्दीन।

मुंबई (आईएएनएस)| अभिनेता नवाजुद्दीन का कहना है कि 'हरामखोर' जैसी फिल्मों ने उनके अंदर के कलाकार को जिंदा रखा हैं। उन्होंने इस फिल्म में काम करने के लिए महज एक रुपया मेहनताना लिया है।

नवाजुद्दीन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "मेरे लिए अपने अंदर के कलाकार को जिंदा रखना बेहद जरूरी है। यह आपसे जुदा नहीं होना चाहिए। कभी-कभी ग्लैमर की चकाचौंध में इसकी उपेक्षा कर दी जाती है। 'हरामखोर' जैसी फिल्मों के जरिए मैं अपने अंदर के कलाकार को जिंदा रखता हूं।"

नवाजुद्दीन (42) बतौर अभिनेता व्यवसायिक और कला फिल्मों के बीच कोई फर्क नहीं करते हैं। फिल्म 'रमन राघव 2.0' के अभिनेता कहते हैं कि वह बॉक्स ऑफिस पर फिल्म की कमाई और सफलता के बारे में चिंता नहीं करते हैं और अपने अभिनय पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

शाहरुख खान अभिनीत फिल्म 'रईस' में भी नवाजुद्दीन नजर आएंगे। इसमें वह सख्त मिजाज पुलिसकर्मी की भूमिका निभा रहे हैं। राहुल ढोलकिया निर्देशित 'रईस' 25 जनवरी को रिलीज हो रही है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top