शाहरुख खान ने टेड टॉक्स में कहा, इंसानियत से जुड़ी सबसे सरल और सबसे बड़ी भावना है प्यार

शाहरुख खान ने टेड टॉक्स में कहा, इंसानियत से जुड़ी सबसे सरल और सबसे बड़ी भावना है प्यार‘टेड टॉक्स’ में शाहरुख खान।

वैंकूवर (भाषा)। शाहरुख खान भारतीय सिनेमा में ‘सपनों के सच होने' की कहावत की एक बड़ी मिसाल हैं और इस सुपरस्टार का कहना है कि वह प्यार को ऐसी भावना मानते हैं जो हर किसी को प्रेरित करती है और नाकामी से बचाती है।

‘टेड टॉक्स' को दिए अपने संबोधन में शाहरुख ने कहा वह दुनियाभर में करोड़ों लोगों को प्यार देते हैं, सपने देखने को प्रेरित करते हैं।

शाहरुख ने कहा, ‘‘मुझे पता है कि कई लोगों ने मेरा काम कभी नही देखा लेकिन यह बात इस तथ्य को खत्म नहीं कर सकती है कि मैं पूरी तरह आत्ममुग्ध हूं जैसे कि एक फिल्म स्टार को होना चाहिए।'' उन्होंने कहा कि प्यार इंसानियत से जुड़ी सबसे सरल और सबसे बड़ी भावना है।

सुपरस्टार ने कहा, ‘‘मैंने यह सीखा है कि जो भी आपको आगे बढ़ाती है, आपको कुछ निर्माण करने के लिए प्रेरित करती है, आपको नाकाम होने से बचाती है, आपके अस्तित्व को बचाए रखती है, वो मानवता की सबसे सरल और सबसे पुरानी भावना है और यह प्यार है।''

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

टेड टॉक में शामिल होने वाले भारतीय अभिनेता शाहरुख ने अपने से जुड़े विवादों के बारे में बात की। उन्होंने कहा, ‘‘मैं जो भी कहता हूं कि उसका नया मतलब निकल जाता है, जो भी करता हूं वह दुनिया के सामने टिप्पणी करने और परखने के लिए होता है, मैंने यह महसूस करना शुरू कर दिया है कि मैं उस तरह दिख नहीं सकता जैसा चाहता हूं या वो नहीं कह सकता जो निश्चित तौर पर सोचता हूं।''

Share it
Top