सड़क छाप: काल सर्प का डंक भैया पूरे भारत को लग चुका है

Neelesh MisraNeelesh Misra   25 March 2017 6:53 PM GMT

सड़क छाप: काल सर्प का डंक भैया पूरे भारत को लग चुका हैपढ़िए नीलेश मिसरा का व्यंग्य 

प्यारे दद्दू,

हम कई दिनों से बड़े टेंशन में हैं। हमें विश्व स्वास्थ्य संस्थान का पता नहीं मिल रहा है। असल में हमें उनको सूचित करना है कि भारत में एक बहुत बड़ी बीमारी फैली हुई है और वो तुरंत इस बारे में कुछ करें वर्ना ये देश धरातल की ओर पांचवें गियर में चल चुका है। दरअसल सुनने में आया है कि भारत में हर दूसरे व्यक्ति को काल सर्प योग नाम की एक भयावह बीमारी हो चुकी है। टीवी पर, अख़बारों में, हर जगह यही बताया जा रहा है कि ये बीमारी ऐसी दुष्ट बीमारी है कि ये बड़ी मुश्किल से दूर होती है।
हमें जब इसके बारे में पता चला तब हमने भी पहले इसे गंभीरता से नहीं लिया। किन्तु जब देखा कि माता-पिता इस काल सर्प योग के कारण अपने बच्चों को बर्फीले पानी में नहलाने से लेकर अघोरियों का सामना करवाने को तैयार हैं, तो लगा कि सचमुच दद्दू, ये बड़ी ही विकट बीमारी लगती है!
दद्दू ये काल सर्प कोई ऐसी वैसी चीज़ नहीं है। ये बड़ा हाई क्वालिटी सर्प है। इसकी बीमारी वो बीमारी है कि काटो तो खून नहीं और मई के बाद जून नहीं। सुनने में आया है कि ये तब होता है जब कई सारे गृह राहु और केतु के घरों के बीच में आके इकठ्ठा हो जाते हैं। इस से काल सर्प दोष हो जाता है। हमने जब ये पहली बार सुना तो हमें बड़ा गुस्सा आया। अरे किसने कहा था इन निठल्ले ग्रहों से राहु और केतु के घरों की ओर जाने को? इत्ता बड़ा आसमान पड़ा है, किसी बादल की साइड वाली गली में टहल लेते, कहीं तारों के पेड़ के नीचे सुस्ता लेते! पर नहीं!
और अगर सार गृह राहु और केतु के घरों के बीच आ भी गए तो हम कहते हैं कि इतना बवाल करने की क्या ज़रूरत है? कौन सा इन्होंने आपके अमरूद चुरा लिए या आपके घर का शीशा तोड़ दिया?
परन्तु ये काल सर्प -- समय का सर्प -- भारत की जनसंख्या के सामने इतना फुंफकार चुका है कि इस साउंड इफेक्ट के अब भयानक इफेक्ट हो रहे हैं।

दद्दू काल सर्प योग के कुछ लक्षण भी हम आपको बताए देते हैं:


1. हर आवश्यक व शुभ कार्य में रुकावट।
2. मानसिक शांति की कमी
3. स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं
4. गरीबी
5. नौकरी छूट जाना
6. परिवार वालों अथवा मित्रों से बुरे सम्बन्ध

देख रहे हैं आप दद्दू?
इस लिस्ट को देखकर तो हम यही कह सकते हैं कि पूरा का पूरा हिंदुस्तान काल सर्प रोग से ग्रसित है!
हमें लगता है कि शहरयार जी ने फिल्म गमन में अपना ये अद्भुत गीत काल सर्प योग के भारत पर विकराल रूप से बढ़ते प्रभाव पर ही लिखा था:

सीने में जलन, आँखों में तूफ़ान सा क्यूँ है? इस शहर में हर शख्स परेशान सा क्यूँ है?


हम भी परेशान हैं। हम पहले सोचते थे कि हमारे सीने में जो जलन होती है वो गैस के कारण या एसिडिटी से होती है। किन्तु उम्र के इस पड़ाव पे आके पता चला कि ये भी काल सर्प योग का प्रभाव है। हाय भगवान!
आप तो जानते ही हैं दद्दू कि हमारी कई महिला मित्र हैं। आप इस बात पे बड़े नाराज़ भी रहा करते थे लेकिन हम इस समय उस मैटर पे बात नहीं कर रहे हैं। हम ये बताना चाह रहे हैं कि हमारी कई महिला मित्र जब शादी की उम्र की हुई तो उन पर उनके माता पिता का क़ुतुब मीनार से भी भारी भरकम दबाव पड़ने लगा शादी के लिए। तब पता लगा कि अरे! उन्हें तो काल सर्प रोग है! आखिर खांसी ज़ुकाम की तरह जो फैली हुई है ये बीमारी!

इन सहेलियों में से एक को जम्मू में बर्फीले पानी में सुबह सुबह खड़े हो कर स्नान करने का आदेश हुआ, तो किसी को एक ऐसी पूजा में बिठाया गया जिस में शमशान घाट से कोई अघोरी बाबा आए और शिवलिंग पर राख मल कर कोई पूजा करी।

देखिये दद्दू, हम किसी की आस्था पर सवाल नहीं उठाना चाहते लेकिन हमको ये समझ नहीं आता कि ये काल सर्प आखिर वर्ल्ड का ऐसा कौन सा बुखार है जो बर्फ के पानी में घुस के ठीक होता है?
इन्ही सब समस्याओं के चलते हम आज कल इन्टरनेट पर काफी समय बिताते हैं। जम के ये ढूंढ़ रहे हैं कि क्या कहीं कम फीस में सपेरा बनने की ट्रेनिंग मिलती है क्या? सर्टिफिकेट न भी दें तो चलेगा। पार्ट टाइम कोर्स भी चलेगा। ये काल सर्प बहुत है दद्दू। हम पूरी तरह मुस्तैद रहना चाहते हैं।


आपका
सड़क छाप

ये भी पढ़िए - सब पे गाँव वाला बनने का फैशन सवार है

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top