मिस्र में स्थापित होगी आईसीसीआर की भारतीय पीठ

मिस्र में स्थापित होगी आईसीसीआर की भारतीय पीठGaon Connection

काहिरा (भाषा)। भारत मिस्र के प्रतिष्ठित एैन शम्स विश्वविद्यालय में अरब जगत में पहले भारतीय पीठ की स्थापना करेगा।

इस सम्बन्ध में भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) की ओर से मिस्र में भारत के राजदूत संजय भट्टाचार्य और विश्वविद्यालय के कार्यकारी अध्यक्ष अब्दुल वहाब इज्जत ने बुद्धवार को सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए।

हस्ताक्षर के बाद भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘सहमति पत्र दो सभ्यता साझेदारों के बीच अकादमिक विनिमय के क्षेत्र में ऐतिहासिक क्षण है क्योंकि आईसीसीआर पीठ न केवल मिस्र बल्कि अरब जगत में पहली 'भारतीय' पीठ होगी।''

समझौते की शर्तों के मुताबिक आईसीसीआर इस विश्वविद्यालय से परामर्श करके एक भारतीय विद्वान को इस पीठ का अध्यक्ष नियुक्त करेगा। यह विश्वविद्यालय मिस्र का तीसरा सबसे बडा विश्वविद्यालय है, जिसकी स्थापना 1950 में हुई थी। इसमें कला, विज्ञान, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी के 15 संकाय हैं । हाल में इस विश्वविद्यालय ने अपने भाषा संकाय में हिंदी और देवनागिरी लिपि के इस्तेमाल पर अध्यापन शुरु किया है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.