ऑगस्टा वेस्टलैंड डील को लेकर पूर्व वायुसेना प्रमुख त्यागी से पूछताछ

ऑगस्टा वेस्टलैंड डील को लेकर पूर्व वायुसेना प्रमुख त्यागी से पूछताछ

नई दिल्ली (भाषा)। सीबीआई ने 3,600 करोड़ रुपए के अगस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे में हुए कथित भ्रष्टाचार के सिलसिले में आज भारतीय वायुसेना के पूर्व प्रमुख एस पी त्यागी से पूछताछ की।

त्यागी पूछताछ के लिए सुबह लगभग दस बजे सीबीआई मुख्यालय पर पहुंचे।  भारतीय उच्च न्यायालय के समकक्ष माने जाने वाली मिलान कोर्ट ऑफ अपील्स ने इस संबंध में विस्तृत जानकारी दी है कि हेलीकॉप्टर निर्माता फिनमेकॉनिका और अगस्टा वेस्टलैंड ने किस तरह से इस सौदे को करने के लिए बिचौलियों के जरिए भारतीय अधिकारियों को रिश्वत दी।

आदेश में कई बार त्यागी का नाम

सीबीआई ने त्यागी और उनके रिश्तेदारों एवं यूरोपीय बिचौलियों समेत 13 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी हेलीकॉप्टतर सौदा मामले में मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ी जांच के सिलसिले में इसी हफ्ते त्यागी को पूछताछ के लिए बुलाया है। सीबीआई त्यागी के साथ-साथ उनके रिश्तेदारों से भी पूछताछ करेगी। त्यागी पर रिश्तेदारों के जरिए रिश्वत लेने का आरोप है। सूत्रों के मुताबिक़ प्रवर्तन निदेशालय ने एसपी त्याेगी और उनके भतीजे संजीव, राजीव और संदीप त्याागी को ऑगस्टात वेस्ट लैंड घोटाले में पूछताछ के लिए नोटिस भेजा है।

सीबीआई ने पूर्व उप वायुसेना प्रमुख जेएस गुजराल से भी ऑगस्टाल वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे में कथित भ्रष्टाचार को लेकर पूछताछ की थी।

दोनों से साल 2013 में विस्तार से पूछताछ की गई थी लेकिन नए दौर के पूछताछ की आवश्यकता एक इतालवी अदालत के सात अप्रैल के आदेश के बाद हुई। मिलान की अपीलीय अदालत ने इस बात का ब्योरा दिया है कि कैसे हेलिकॉप्टर निर्माता फिनमेकॉनिका और अगस्टा वेस्टलैंड ने सौदा हासिल करने के लिए बिचौलियों के जरिए भारतीय अधिकारियों को कथित तौर पर रिश्वत दी। अदालत ने अपने आदेश में कई बिंदुओं पर त्यागी के नाम का उल्लेख किया है। सीबीआई को मिलान की अदालत के आदेश की प्रति मिल गई है जिसके आधार पर उसने त्यागी और गुजरात से पूछताछ करने के लिए नयी प्रश्नावली तैयार की है। त्यागी ने अपने खिलाफ आरोपों का खंडन किया है और दावा किया कि सीमा को कम करने का फैसला गुजराल समेत वरिष्ठ अधिकारियों के एक समूह ने किया था। सीबीआई ने अब तक कहा है कि गुजराल से एक गवाह के तौर पर पूछताछ की गई है लेकिन इस बात पर चुप्पी साध ली कि क्या उनका दर्जा वही बरकरार रहेगा।

सीबीआई ने आठ देशों को न्यायिक अनुरोध भेजा है जिसका लक्ष्य सौदे को हासिल करने के लिए कथित तौर पर दी गई 400 करोड़ रुपये की रिश्वत का धन कैसे-कैसे होकर आया इसका पता लगाना है। एजेंसी ने पूर्व वायु सेना प्रमुख एसपी त्यागी और उनके रिश्ते के तीन भाइयों समेत 12 अन्य और पांच विदेशी नागरिकों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। त्यागी ने अपने खिलाफ लगाए गए आरोपों का खंडन किया है। इसके अलावा इटली स्थित फिनमेकैनिका, अगस्टा वेस्टलैंड, मोहाली की आईडीएस इंफोटेक, चंडीगढ़ की एयरोमैट्रिक्स, आईडीएस ट्यूनीशिया और आईडीएस मॉरीशस को सीबीआई ने अपनी प्राथमिकी में नामजद किया है।

Tags:    India 
Share it
Top