पंजाब में 2,070 करोड़ रुपए की राजमार्ग परियोजना को मंजूरी

पंजाब में 2,070 करोड़ रुपए की राजमार्ग परियोजना को मंजूरीgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पंजाब में सालाना भुगतान की मिलीजुली योजना के तहत 2,070 करोड़ रुपए की राजमार्ग परियोजना को मंजूरी दे दी है। इससे चंडीगढ़ और लुधियाना के बीच यातायात की तेजी से आवाजाही सुनिश्चित हो सकेगी।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कैबिनेट की बैठक के बाद कहा, ‘‘यह परियोजना चंडीगढ़-लुधियाना खंड का हिस्सा है। कैबिनेट ने राष्ट्रीय राजमार्ग 95 (नए एनएच-5) पर खरार से लुधियाना खंड को छह-चार लेन करने की मंजूरी दी है।''

इस 76 किलोमीटर के राजमार्ग के रास्ते का निर्माण 2,069.70 करोड़ रुपए की लागत से किया जाएगा। इसके लिए 383.22 हेक्टेयर ज़मीन की ज़रुरत होगी। इसमें से ज्यादातर भूमि का अधिग्रहण हो गया है। शेष 145 हेक्टेयर का भी जल्द अधिग्रहण कर लिया जाएगा। फिलहाल यह राजमार्ग दो लेन का है।

मंत्री ने बताया कि इस परियोजना को 30 महीने में पूरा किया जाना है। इसमें से 54 किलोमीटर को चौड़ाकर छह लेन का किया जाएगा और शेष 22 किलोमीटर को चार लेन का किया जाएगा। सडक परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 2006 में एनएच-21 और एनएच95 पर चंडीगढ़-लुधियाना खंड को सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) के तहत मंजूरी दी थी। एनएचडीपी चरण पांच में इसका ‘बनाओ, चलाओ और सौंपो' के आधार पर किया जाना था।

बाद में इस परियोजना को पुनर्गठित कर दो हिस्सों चंडीगढ़-खरार और खरार-लुधियाना में बांट दिया गया। चंडीगढ़-खरार खंड का आवंटन पहले ही इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण आधार पर किया जा चुका है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top