प्रदर्शन करने पहुंचे ग्राम रोजगार सेवक गिरफ्तार

प्रदर्शन करने पहुंचे ग्राम रोजगार सेवक गिरफ्तारgaonconnection

लखनऊ। राज्य कर्मचारी का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर अलग-अलग शहरों से विधान सभा का घेराव करने पहुंच रहे ग्राम रोजगार सेवकों को प्रशासन द्वारा शहर के अंदर आने से पहले ही रोक लिया गया। प्रशासन द्वारा सभी को गिरफ्तार कर रमाबाई अंबेडकर पार्क में बनायी गयी अस्थायी जेल में भेज दिया गया।

सख्ती के बावजूद बड़ी संख्या में ग्राम रोजगार सेवक शहर के अंदर घुसने में कामयाब हुए, लेकिन प्रशासन ने उनको भी लक्ष्मण मेला मैदान, चारबाग और हजरतगंज के साथ कई अन्य क्षेत्रों से गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान ग्राम रोजगार सेवकों की पुलिस से तीखी झड़प हुई। इन सभी की गिरफ्तारी गृह विभाग के आदेश पर की गयी। गृह विभाग द्वारा इन लोगों के लखनऊ सीमा में प्रवेश पर रोक लगायी थी।

वहीं दूसरी ओर हजारों ग्राम रोजगार सेवक लक्ष्मण मेला मैदान में सुबह से ही डेरा जमाये बैठे रहे, जिनको पुलिस ने वहीं से बसों और प्राइवेट गाड़ियों में भरकर रमाबाई अंबेडकर मैदान में भेज दिया। ग्राम सेवकों का नेतृत्व कर रहे अखिलेश यादव ने कहा कि 20 हजार ग्राम रोजगार सेवकों को प्रशासन ने पूरे प्रदेश में गिरफ्तार किया है।

उन्होंने कहा कि केवल लखनऊ से ही नहीं बल्कि अलग-अलग शहरों भी हजारों ग्राम रोजगार सेवकों को गिरफ्तार किया गया। मुरादाबाद, बलिया, पीलीभीत, बरेली, कानपुर, उन्नाव, रायबरेली, अजमगढ़, शाहजहांपुर, लखीमपुर, सीतापुर, सहित कई जिलों में पुलिस ने जिलों की सीमा के बाहर ही गिरफ्तार कर लिया। ग्राम रोजगार सेवकों और सरकार के बीच वार्ता विफल रही। देर शाम अपनी मांगों को लेकर कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में वार्ता रखी गयी थी जो विफल हो गयी। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top