राजधानी के इन चौराहों को बनाया वनवे

राजधानी के इन चौराहों को बनाया वनवेगाँव कनेक्शन

लखनऊ। राजधानी में सड़कों पर फर्राटा भरते वाहनों के बढ़ते लोड से निपटने के लिए पुलिस के आलाधिकारियों ने अपना एक्शन प्लान तैयार किया है। इसके तहत आज से राजधानी के हजरतगंज सहित कई चैराहों पर वन वे लागू रहेगा। इसका उल्लंघन करने वालों पर पुलिस उनका तुरंत चालान काट देगी।

राजधानी में बढ़ते ट्रैफिक लोड से सिटी की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई है। शहर के प्रमुख चैराहों पर जाम लगने की समस्या आम हो गई है। इसके लिए जिला प्रशासन और पुलिस के आलाधिकारियों ने बैठक की और वनवे फामूर्ला लागू करने की ठानी। इसके चलते बृहस्पितवार से शहर के कई चैराहों पर पायलेट प्रोजेक्ट की तर्ज पर इसे लागू किया जायेगा।

राजधानी के इन चैराहों पर लगता है जाम

एसएसपी लखनऊ राजेश कुमार पांडे ने बताया, ''शहर में गाड़ियों के बढ़ते लोड के चलते टैफिक नियंत्रण करने में काफी दिक्कत होती है।इसके चलते कल से शहर के उन चैराहों पर पायलेट प्रोजेक्ट वन वे चलाया जायेगा जहां टैफिक लोड ज्यादा रहता है उनमें सहारागंज चैराहा, अलका तिराहा, डनलप तिराहा,शाहनजफ तिराहा,लालबाग चैराहा और वाल्मीकि तिराहा शामिल है।इन चैराहों पर ही पहले ट्रायल किया जायेगा।इसके बाद फीडबैक देखा जायेगा। अगर सब सही रहा तो इस वनवे को आगे कान्टिन्यू भी किया जायेगा।''

यह है पुलिस का एक्शन प्लान, ऐसे डायवर्ट रहेगा रूट

एसएसपी राजेश पांडे ने बताया, ''लखनउ नगऱ क्षेत्र में विभिन्न मार्गों पर पुलिस अधिनियम 1861की धारा 31 में दिये गये अधिकारों का प्रयोग करते हुए यातायात के सुगम संचालन के लिए और ट्रैफिक के दबाव को कम करने के लिए बृहस्पतिवार से सुबह 8 बजे से लेकर रात 10 बजे तक वन वे का पालन कराया जायेगा।'' उन्होंने बताया कि महानगर और दैनिक जागरण चैराहे की ओर से आने वाले यातायात सहारागंज की ओर नहीं जाने दिया जायेगा।इसे अशोक मार्ग या निशातगंज की ओर ही जाने दिया जायेगा।अगर किसी को सहारागंज जाना है तो वह सप्रू मार्ग होते हुए ही सहारागंज जा पायेगा।सहारागंज तिराहे से कोई भी ट्रैफिक डनलप तिराहा,एसएसपी आवास या सप्रू मार्ग की ओर नहीं जा सकेगा बल्कि इसे सहारागंज तिराहा होकर ही पास किया जायेगा।

उन्होंने आगे बताया कि एसएसपी आवास से कोई भी वाहन सेंट फ्रांसिस या अलका तिराहा की ओर नहीं जा सकेगा बल्कि यह सहारागंज तिराहा होकर ही पास कराया जायेगा।वाल्मिकी चैराहे से कोई भी वाहन कैपर रोड चैराहा की ओर नहीं जा पायेगा।इसे मेफेयर तिराहा होकर पास कराया जायेगा।बैंक आफ इंडिया की ओर से कोई वाहन लीला सिनेमा या नवल किशोर तिराहा नहीं जा सकेगा, इसे सहारागंज तिराहा होकर पास कराया जायेगा।

इसके साथ ही अलका तिराहा से छोटे चार पहिया या दो पहिया वाहनों के अलावा कोई भी वाहन हजरतगंज चैराहा की ओर नहीं जाने दिया जायेगा।सारे मध्यम या बडे़ चार पहिया वाहनों को शाहनजफ रोड पर सहारागंज तिराहा की ओर भेजा जायेगा।अलका तिराहे से हजरतगंज चैराहा जाने वाले मार्ग पर इस तरह से बैरियर लगाया जायेगा कि एंबुलेंस, पुलिस और फायर बिग्रेड के वाहनों को छोड़कर कोई भी मध्यम, बड़ा चार पहिया और कमर्शियल वाहन हजरतगंज चैराहे की ओर नहीं जा पायेगा।मेफेयर तिराहे से आने वाले मध्यम, बड़े चारपहिया और कमर्शियल वाहनों को सहारागंज तिराहे की ओर भेजा जायेगा।इसके साथ ही सभी चैराहों पर साइन बोर्ड लगाकर लोगों को जानकारी दी जायेगी और नो इंट्री में घुसने से रोका जायेगा।

हजरतगंज आने वालों ने बताया सराहनीय पहल

हजरतगंज में आईडीबीआई बैंक में काम करने वाली नीलम राना ने बताया कि पुलिस और प्रशासन जिस तरह से ट्रैफिक को लेकर गंभीर हुआ है, उससे लगता है कि शायद अब जाम से निजात मिल जायेगी।लेकिन जिस तरह से लोग रूल्स तोड़ते हैं और पुलिस कोई ठोस कार्यवाही नहीं करती उससे माहौल बिगड़ता है।

अलका तिराहे पर एक प्रतिष्ठान के व्यवसायी ने बताया कि आमतौर पर दिक्कत तब होती है जब सड़कों पर हैवी ट्रैफिक होता है और लोग नियमों को हवा में उड़ाते हुए चलते बनते हैं।ऐसी कंडीशन ही जाम का कारण बनती है।इसके अलावा चूंकि कल पहला दिन है तो लोगों की आदत में वन वे को शामिल करना काफी दिक्कत भरा है।जैसे दैनिक जागरण चैराहे से सहारागंज आने वालों पर प्रतिबंध लगाने में पुलिस को काफी पसीना बहाना पड़ेगा।

First Published: 2016-09-16 16:04:14.0

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top