सांड की तलाश में पूरे वाराणसी शहर में लगे पोस्टर, 50000 रुपए इनाम

सांड की तलाश में पूरे वाराणसी शहर में लगे पोस्टर, 50000 रुपए इनामगाँव कनेक्शन

लखनऊ। गुमशुदा की तलाश, उम्र- तीन साल, रंग- काला, लम्बाई- लगभग चार फीट और बताने वाले को 50 हजार ईनाम। एक चीज जो इस पोस्टर में खास है, वो है एक सांड की तस्वीर। वाराणसी शहर में लगे ये पोस्टर खासा चर्चा का विषय बने हुए हैं। पोस्टर के सांड को खोजने के लिए पुलिस थाने में रिपोर्ट भी दर्ज़ कराई गई है।

वाराणसी जिले के बरईपुर गाँव में रहने वाले मनोज पांडे का बादशाह नाम का सांड पिछले तेरह दिनों से गायब है। इसकी तलाश के लिए उन्होंने शहर में जगह-जगह पोस्टर लगाए हैं। “बादशाह को हम परिवार का सदस्य मानते थे, बहुत ही लाड-प्यार से पाला है। हमने गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई, इसलिए ईनाम रख दिया ताकि जिसने चुराया हो, रुपए के लालच में उसे वापस कर जाए,” मनोज ने फोन पर बताया। 

‘बादशाह’ की खासियत है उसका अच्छी नस्ल का होना, इससे मनोज गायों की ब्रीडिंग कराते हैं।

मनोज के पास बादशाह ही नहीं, बल्कि बीरबल, चंडू, मंडू और त्रिकुंड नाम से चार सांड और भी हैं। लेकिन पुलिस की लापरवाही से वह खासे नाराज हैं। “आजम खां की भैंसें खोई थीं, तो एक ही दिन में उसको ढूंढ लिया गया, लेकिन अगर किसी आम आदमी का जानवर गायब हुआ, तो कोई कार्रवाई नहीं। जब से मैंने रिपोर्ट दर्ज़ कराई है, तब से हर दो दिन पर थाने का चक्कर लगा रहे हैं, पर कोई सुनता नहीं।”

सारनाथ पुलिस स्टेशन के एसओ महेंद्र प्रसाद यादव बताते हैं, “बादशाह के गुमशुदगी की रिपोर्ट को उसके गायब होने के दो दिन बाद दर्ज़ किया गया था। हम लोग ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन अभी कोई तथ्य सामने नहीं आया है। ऐसा मामला हमारे पास पहली बार आया है, तो ढूंढने में थोड़ा मुश्किल हो रहा है।” मनोज को जानवर से प्यार है। घर में साड़ों के साथ-साथ उनके पास 18 पिल्ले और 14 कुत्ते आवारा कुत्ते है, जिनकी सेवा वो कर रहे हैं।

Tags:    India 
Share it
Top