सैफई मेडीकल यूनिवर्सिटी के पहले कुलपति बने टी. प्रभाकर

सैफई मेडीकल यूनिवर्सिटी के पहले कुलपति बने टी. प्रभाकरgaonconnection

सैफई। उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के पहले कुलपति के रूप में डॉ. टी. प्रभाकर को नियुक्त किया गया है। सैफई की यह मेडिकल यूनिवर्सिटी सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव का ड्रीम प्रोजेक्ट है।

डॉ. टी. प्रभाकर इससे पहले पूर्ववर्ती उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान के निदेशक रह चुके हैं। राज्यपाल महोदय द्वारा तीन मई 2016 को उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, सैफई, इटावा विधेयक 2015 पर अनुमोदन दिया गया। इसके एक महीने बाद 5 जून को संस्थान पूरी तरह से विश्वविद्यालय के रूप में हो गया।

बधाई देने वालों में अपर निदेशक राधाकृष्ण सिंह, संकाय अध्यक्ष प्रो के.एम. शुक्ला, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आदेश कुमार, सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. मोहन सिंह, वित्त नियंत्रक बलवीर सिंह, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के.बी. अग्रवाल, जनसम्पर्क अधिकारी अनिल कुमार पाण्डेय प्रमुख हैं।

कुलपति बनाये गए डॉ. टी. प्रभाकर को चिकित्सा जगत में उल्लेखनीय योगदान के लिए हाल ही में प्रदेश के सबसे बड़े सम्मान यश भारती से नवाजा गया है। टी. प्रभाकर आन्ध्रा मेडिकल कालेज, विशाखापट्नम से 1971 में एमबीबीएस उत्तीर्ण करने के बाद 1972 में सेना के चिकित्सा कोर में शामिल हुए। इसके बाद पूणे विश्वविद्यालय से एनेस्थेसिया में परास्नातक (एमडी) करने वाले चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में 32 वर्षों तक शैक्षणिक कार्य किया है।

टी. प्रभाकर ने सेना चिकित्सा कोर से वर्ष 2006 में डिप्टी डायरेक्टर जनरल, आर्मड फोर्स मेडिकल सर्विसेज पद से सेवानिवृत पाने के बाद 2006 से 2011 तक उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान सैफई के निदेशक पद पर कार्य किया।

रिपोर्टर - वेदव्रत गुप्ता

Tags:    India 
Share it
Top