सबसे पहले भाजपा शासित राज्यों में लागू हो शराबबंदी: यादव

सबसे पहले भाजपा शासित राज्यों में लागू हो शराबबंदी: यादवgaonconnection

बलरामपुर (भाषा)। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य राज्यमंत्री एसपी यादव ने एटा में जहरीली शराब से पिछले दिनों कई लोगों की मौत की घटना के बीच राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी की मांग पर पलटवार किया है।

बलरामपुर में राप्ती नदी के कटान से प्रभावित गाँवों का आज जायजा लेने आये यादव ने कहा कि कल्याण सिंह दो बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे चुके हैं, तब उन्होंने शराब पर पाबन्दी क्यों नहीं लगाई। सिंह आज भी केंद्र में सत्तारुढ़ भाजपा के बड़े नेता हैं। वह प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी से बात करके सबसे पहले भाजपा शासित राज्यों में शराब पर पाबन्दी लगवायें, तब उत्तर प्रदेश की बात करें।

स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने कहा कि अलग-अलग राज्यो में शराबबंदी से कोई फायदा नहीं होगा, क्योंकि इससे दूसरे प्रदेशों से शराब की तस्करी और अवैध निर्माण बढ़ेगा। शराबबंदी के लिये केंद्र सरकार कोई राष्ट्रीय नीति बनाये तभी वास्तव में शराब पर पाबन्दी लग सकती है। प्रदेश के एटा में पिछले दिनों जहरीली शराब पीने से कम से कम 33 लोगों की मौत हो गयी थी। जदयू अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने राज्य की तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी पूर्ण शराबबंदी लागू करने के मुख्य मुद्दे के साथ सूबे का अगला चुनाव लड़ने जा रहे हैं। इसके अलावा राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने भी पिछले दिनों प्रदेश में शराब पर पाबंदी की वकालत की थी।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.