अब कन्नौज में भी हो सकेगा मिट्टी का परीक्षण

गाँव कनेक्शनगाँव कनेक्शन   27 March 2017 11:11 AM GMT

अब कन्नौज में भी हो सकेगा मिट्टी का परीक्षणउनके खेतों की मिट्टी की जांच अब कन्नौज में ही होने लगेगी।

अजय मिश्र, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

कन्नौज। जिले के किसानों के लिए राहत भरी खबर है। उनके खेतों की मिट्टी की जांच अब कन्नौज में ही होने लगेगी। रिपोर्ट भी अब समय से मिल जाया करेगी। अन्नदाताओं को अब भटकना नहीं पड़ेगा।

लखनऊ से करीब 150 किमी दूर बसे कन्नौज जिले में अभी तक मिट्टी के सूक्ष्म तत्व टेस्टिंग की सुविधा नहीं है। डीडी कृषि डॉ. राजेश कुमार ने बताया, ‘‘अप्रैल-मई से कन्नौज में ही मिट्टी की सूक्ष्म तत्व की जांच शुरू हो जाएगी। करीब 22 लाख की मशीन लखनऊ से खरीद ली गई है। जल्द ही उसे स्थापित कर दिया जाएगा।’’ डॉ. राजेश कुमार आगे बताते हैं, “15 अप्रैल तक किसानों को मृदा का हेल्थ कार्ड भी बांट दिया जाएगा।”

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

भूमि परीक्षण प्रयोगशाला अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद कटियार बताते हैं, ‘‘अभियान के तहत मिट्टी की जांच नि:शुल्क होती है। अगर काश्तकार अभियान के बाद विभाग में आकर जांच कराते हैं तो मुख्य पोशक तत्व का 29 रुपए और सूक्ष्म तत्व समेत 102 रुपए लिया जाता है। मुख्य पोषक तत्व में एनपीके शामिल है।’’ वह आगे कहते हैं कि अभी तक सूक्ष्म तत्व की जांच कानपुर मंडल के कानपुर या इटावा में होती है।

अप्रैल-मई से कन्नौज में ही मिट्टी की सूक्ष्म तत्व की जांच शुरू हो जाएगी। करीब 22 लाख की मशीन लखनऊ से खरीद ली गई है। जल्द ही उसे स्थापित कर दिया जाएगा।
डॉ. राजेश कुमार, डीडी कृषि

कन्नौज की जांच कानपुर से होती है, लेकिन जल्द ही मशीन इसी जिले में लग रही है। इससे जांच करीब एक सप्ताह में ही किसानों को मिल जाएगी। अभी मिट्टी की जाँच में करीब 15 दिन का समय लग जाता है। जिले के तिर्वा तहसील क्षेत्र की मिट्टी के बाबत उनका तर्क है कि यहां फास्फेट और नाइट्रोजन कम या अति न्यून है। पोटाश की कमी नहीं है। मीडियम या हाई में आता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top