नेचुरोपैथी चिकित्सा से बच्चों ने सीखे निरोग रहने के गुर 

नेचुरोपैथी चिकित्सा से बच्चों ने सीखे निरोग रहने के गुर चिकित्सक ने सभी बच्चों को जवाब देते हुए स्वस्थ्य रहने के लिए योग सिखाए।

इश्त्याक खान, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। शहर के प्रेमानंद आश्रम के पास गौतमबुद्ध पब्लिक इंटर कालेज में गाँव कनेक्शन के योग एवं नेचुरोपैथी चिकित्सा शिविर में बच्चों ने निरोग रहने के उपाय सीखे। शरीर में आलस और समय-समय पर ऊंघने का सवाल किया। चिकित्सक ने सभी बच्चों को जवाब देते हुए स्वस्थ्य रहने के लिए योग सिखाए।

सेहत से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

खानपुर रोड पर प्रेमानंद आश्रम के पास गौतम बुद्ध पब्लिक इंटर कालेज में योग एवं नेचुरोपैथी चिकित्सक डॉ. मिथुन मिश्रा ने कैंप में बच्चों को सबसे पहले स्वच्छता के संबध में बताया। बच्चों को नित्य विद्यालय जाने के लिए साफ-सुथरी ड्रेस पहनकर स्कूल जाना चाहिए। स्वस्थ्य रहने के लिए अपने आस-पास किसी प्रकार की कोई गंदगी न ठहरने दें। खासतौर पर घर के अंदर और बाहर गंदगी से वातावरण दूषित होता है।

अंग्रेजी दवाओं से हटकर मिट्टी और पानी से स्वस्थ्य रहा जा सकता है। शरीर को इनरजेटिक और फुर्तीला रखने के लिए योग और व्यायाम बहुत जरूरी है। बिना व्यायाम के शरीर में सुस्ती बनी रहती है, जिसके कारण जमवाई आती रहती है। शाम को खाना खाने के बाद तुरंत पानी नहीं पीना चाहिए। इससे अग्नाशय ठंडा नहीं हो पाता है और पाचन क्रिया दुरुस्त नहीं रहती है। खाना खाने के आधा घंटे पहले पानी पीना चाहिए।

सुबह उठने के बाद दो गिलास पानी पीने के बाद ही शौच जाए। इससे पेट साफ होगा और शरीर में फुर्ती आएगी। लंबी उम्र में भी लचीलापन पाने के लिए नियमित योग जरूरी है। संतुलित आहार लें, जिससे शरीर में किसी प्रकार का कोई रोग न हो। संतुलित आहार न लेने से आज लोग असमय ही बूढ़े होते जा रहे हैं। चिकित्सक ने बच्चों के सामने ताड़ासन योग भी किया। इसके अलावा हास्यपादासन, पश्चिमोत्तासन, स्केचिंग भी करके दिखाई। इससे बच्चों में काफी उत्साह और उमंग दिखाई दी।

चिकित्सक ने बच्चों को सिखाया योग

चिकित्सक ने सभी बच्चों को योग और व्यायाम नित्य करने का संकल्प दिलाया। कैंप में कालेज के प्रबंधक चंद्र प्रकाश शर्मा, मनोज सिंह, आनंद शर्मा, वैभव तिवारी, जितेंद्र सिंह, राम पाल सिंह, आयशा, पूजा चतुर्वेदी सहित कालेज के सभी शिक्षक मौजूद रहे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top