गर्मी में तपने को मजबूर पीलीभीत रेलवे स्टेशन पर यात्री

गर्मी में तपने को मजबूर पीलीभीत रेलवे स्टेशन पर यात्रीबिना टीन शेड के ट्रेन का इंतजार करते यात्री।

अनिल चौधरी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

पीलीभीत। लंबे अंतराल के बाद जनपद पीलीभीत को बड़े रेलवे स्टेशन की सौगात पिछले पांच माह पहले मिली थी तो जनपद वासियों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा, लेकिन रेलवे स्टेशन के निर्माणकारी संस्था की कार्य करने की गति इतनी सुस्त है कि स्टेशन का अधिकतर कार्य अभी तक अधूरा पड़ा है।

इस समय पीलीभीत रेलवे स्टेशन से ब्रॉडगेज व मीटरगेज दोनों तरह की ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। प्लेटफॉर्म नंबर तीन और चार से शाहजहांपुर और मैलानी के लिए छोटी लाइन की ट्रेनों का संचालन किया जाता है, जहां हज़ारों की संख्या में प्रतिदिन यात्री अपने गंतव्य स्थान जाने के लिए स्टेशन आते हैं, लेकिन प्लेटफ़ॉर्म नंबर तीन पर अभी छत की कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़ें- सेना ने कश्मीरी युवक को जीप के बोनट पर बांधने वाले मेजर को दी क्लीन चिट

यहां पड़ी पुरानी टीनों को उतारकर प्लेटफॉर्म को ऊंचा किया जाना था, लेकिन काफी लंबा समय होने के बाद भी इस प्लेटफॉर्म का निर्माण कार्य नहीं हो सका और यात्री चिलचिलाती धूप में ट्रेनों का इंतज़ार करने को विवश हैं। बीसलपुर जाने वाली महिला लीलावती (38 वर्ष) ने बताया, “हम इस गर्मी में प्लेटफॉर्म पर खुली छत के नीचे बैठने को मजबूर हैं। धूप से बच्चों को बहुत परेशानी होती है। प्लेटफॉर्म पर ठंडे पानी की भी व्यवस्था नहीं है।”

फुट ओवरब्रिज के निर्माण कार्य में आई तेज़ी

पीलीभीत जंक्शन की बड़ी रेल लाइन पर बन रहे फुट ओवरब्रिज की निर्माण प्रक्रिया में कुछ तेज़ी दिखाई दी है। स्टेशन पर प्लेटफॉर्म नंबर एक से दो तक पहुंचने के लिए फुट ओवरब्रिज का निर्माण किया जा रहा है। इस कार्य को काफी तेज़ गति से किया जा रहा है। उम्मीद है कि यात्रियों को फुट ओवरब्रिज की सुविधा का लाभ इस महीने के अंत तक मिल सकेगा। ओवरब्रिज बनने के बाद यात्रियों को मीटरगेज (छोटी लाइन) के प्लेटफॉर्म तक पहुंचने के लिए रेल लाइनों को पार नहीं करना पड़ेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top