तहसील दिवस में लगी शिकायतों की झड़ी

तहसील दिवस में लगी शिकायतों की झड़ीतहसील दिवस पर शिकायतों की हुई सुनवाई।

दीपांशू मिश्रा, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। करीब तीन महीने बाद तहसील दिवस की फिर से शुरुआत की गई। लखनऊ के पांचों तहसीलों में शिकायतों की झड़ी लग गई। इस दौरान पांचों तहसीलों में तहसील दिवस पर 303 शिकायतें आईं। जिलाधिकारी ने अधिकारियों की सभी शिकायतों को एक सप्ताह के अंदर निस्तारित करने के आदेश दिए।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

बक्शी का तालाब में आयोजित तहसील दिवस में जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा, “सभी अधिकारी आम जनता की शिकायतों का निस्तारण त्वरित एवं समयबद्ध तरीके से करना सुनिश्चित करें। आम जनता की समस्याओं का निस्तारण करना सभी सम्बन्धित अधिकारियों की जिम्मेदारी है और जन समस्याओं का निस्तारण सकारात्मक होना चाहिए।”

उन्होंने कहा, “आईजीआरएस पोर्टल पर आने वाली जन शिकायतों का निस्तारण पोर्टल के माध्यम से ही सभी विभाग के अधिकारी समय से कराना सुनिश्चित करें। शिकायतों के निस्तारण से सम्बन्धित सभी विभाग के अधिकारी एक रजिस्टर अवश्य बनवाऐं और सभी जिला स्तरीय अधिकारी अपने स्तर पर नियमित समीक्षा करें। इसके साथ ही शिकायतों को निर्धारित समय में ही निस्तारित कराए।

जनपद की सभी पांच तहसीलों में तहसील दिवस आयोजित किए गए। इसके साथ ही आयोजित तहसील दिवस में कुल 303 मामले प्राप्त हुए। जिसमें से 10 का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। शेष प्रकरणों को निस्तारण के लिए सम्बन्धित विभागों को इस निर्देश के साथ उपलब्ध करा दिए गए हैं। इनका निस्तारण एक सप्ताह में हो जाएगा।

तहसील दिवस बी.के.टी. के अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अविनाश सिंह, जिला विकास अधिकारी पी.के.सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा.जी.एस.बाजपेयी, तहसीलदार बी.के.टी राजेश कुमार शुक्ल, सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top