उन्नाव: तीन माह में पुलिस ने बरामद की 5678 लीटर कच्ची शराब, 27 लोग गिरफ्तार

उन्नाव: तीन माह में पुलिस ने बरामद की 5678 लीटर कच्ची शराब, 27 लोग गिरफ्तारकुटीर उद्योग के रूप में फैले कच्ची शराब के कारोबार से जुड़े लोग जनपद ही नहीं, आसपास के सीमावर्ती जनपदों में भी शराब की बिक्री करते हैं।

मोहित अस्थाना

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। विधानसभा चुनाव आते ही जनपद में अवैध शराब का कारोबार बढ़ जाता है। कच्ची शराब के सहारे नेता मतदाताओं की चैखट तक पहुंचकर उन्हें लुभाने का प्रयास करते हैं। चुनाव में कच्ची शराब के कारोबारियों की सक्रियता बढ़ने के मद्देनजर कच्ची अवैध शराब निर्माण व बिक्री पर प्रशासन ने सख्त होकर करीब तीन महीने में अभियान चलाकर 5678 लीटर कच्ची अवैध शराब की बरामदगी की और 27 लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है।

चुनाव आते ही मतदाताओं को लुभाने के लिए यहां पर अवैध शराब की बिक्री जोरों पर शुरू हो जाती है।
राम बिलास, कर्दहा मौरावां निवासी

वैसे भी जनपद कच्ची शराब निर्माण एवं बिक्री के मामले में चर्चा में रहा है। कुटीर उद्योग के रूप में फैले कच्ची शराब के कारोबार से जुड़े लोग जनपद ही नहीं अपितु आसपास के सीमावर्ती जनपदों में भी इस शराब की बिक्री करते हैं।

बीते वर्ष जहरीली शराब के सेवन से हसनगंज थानाक्षेत्र के ताला सरांय तथा सदर कोतवाली के जुराखन खेड़ा में करीब दो दर्जन लोगों की मौतों के बाद भी शराब के इस काले कारोबार में कोई परिवर्तन नजर नहीं आया। जिले के मौरावां, गगांघाट अचलगंज बिहार बीघापुर, सफीपुर, बांगरमऊ तथा एक चैरासी थाना क्षेत्रों में अवैध शराब का कारोबार कुटीर उद्योग के रूप में संचालित है।

जांच चल रही है। अभियान चलाकर धरपकड़ की जा रही है। मुखबिरों के माध्यम से जहां भी सूचना मिल रही है वहां भी छापेमारी की जा रही है।
नेहा पांडेय, एसपी

जिनमें गंगाघाट बिहार अचलगंज थाना क्षेत्रों की कटरी क्षेत्र में बसे गाँवों में शराब की भट्ठियां 24 घण्टे धधकती हैं। कारोबारियों की सक्रियता बढ़ने की मंशा से पुलिस अधीक्षक नेहा पाण्डेय ने बीते तीन माह में अभियान चलाकर कारोबारियों के विरुद्ध छापेमारी करनी शुरू कर दी। एसपी के निर्देश पर जिले की पुलिस ने 5678 लीटर कच्ची अवैध शराब बरामद की और 27 लोगों को गिरफ्तार किया है।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top