नोटबंदी के बाद भी ग्रामीणों ने भाजपा को खूब दिए वोट

Divendra SinghDivendra Singh   12 March 2017 1:08 PM GMT

नोटबंदी के बाद भी ग्रामीणों ने भाजपा को खूब दिए वोटभाजपा सरकार बहुमत से प्रदेश में सरकार बनाने जा रही है, अब किसानों को नयी सरकार से उम्मीदें भी हैं।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। भले ही नोटबंदी से किसानों की खेती पर असर पड़ा हो, लेकिन भाजपा सरकार बहुमत से प्रदेश में सरकार बनाने जा रही है, अब किसानों को नयी सरकार से उम्मीदें भी हैं। इस बार उत्तर प्रदेश में आलू की पैदावार हुई, लेकिन किसानों को सही दाम नहीं मिल पा रहा है। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में प्रदेश के हर ब्लॉक पर गोदाम और कोल्ड स्टोरेज शुरु करने की बात कही है।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

प्रदेश के कई जिलों में इन स्टोर के बाहर लंबी-लंबी लाइनें लगी हैं। ज्यादातार कोल्ड स्टोरेज ने फुल होने का बोर्ड लगा दिया है। प्रतापगढ़ जिले के चौहान का पूरा गाँव के किसान विजय सिंह (45 वर्ष) कहते हैं, “नोट बंदी की वजह से हम किसानों को बहुत परेशानी हुई थी, उसके बाद भी आलू किसानों को सही दाम नहीं मिल पा रहा है, लेकिन नयी सरकार से उम्मीद है कि वो किसानों को सही बाजार मिल पाए।”

हरदोई जिले के किसान गौरव श्रीवास्तव कहते हैं, “मैं तो बस इतना चाहता हूं कि भाजपा सरकार किसानों को ऋण मुक्त ब्याज, खेती में आवश्यक जैविक/अन्य महत्वपूर्ण वस्तुएं शतप्रतिशत किसानों को उपलब्ध करने की व्यवस्था करे और इसमें सिर्फ भूमिधर किसान ही नहीं अपितु जो किराये पर खेत लेकर खेती करते हैं या बटाई पर खेती करते हैं उन्हें भी सभी कृषि सुविधाएं मिलें। ”

वो आगे कहते हैं, “सरकार की बड़ी-बड़ी योजनाएं जिनके बारे में किसानों को पता तक नहीं है, वह सिर्फ कागजों में बंदरबांट का शिकार हो जाती हैं। ऐसी स्थिति में हर योजना के आवेदन हेतु ऑनलाइन व्यवस्था हो जिसमें किसान कहीं से भी आवेदन कर सके योजनाओं की खुली जानकारी ऑनलाइन होनी चाहिये।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top