जलस्तर बढ़ाने में मददगार होंगे नए तालाब 

जलस्तर बढ़ाने में मददगार होंगे नए तालाब जिन तालाबों पर कब्जा है उनको भी कब्जा मुक्त कराकर नए स्तर से बनवाया जाएगा।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

प्रतापगढ़। जिले में जलस्तर घटता जा रहा है, ऐसे में जिला प्रशासन की मदद से बनाए जा रहे नए तालाब जलस्तर बढ़ाने में मददगार साबित होंगे। वहीं जिन तालाबों पर कब्जा है उनको भी कब्जा मुक्त कराकर नए स्तर से बनवाया जाएगा।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय से लगभग 25 किमी. दूर शिवगढ़ ब्लॉक के देल्हूपुर, खरवई जैसे दर्जनों गाँवों में स्थित चनौरा तालाब कभी इन गाँवों के लोगों के सिंचाई के काम आता था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में लोगों ने तालाब को खेत में मिला लिया था, लेकिन जल्द ही इस तालाब को मुक्त कराकर फिर से बनवाया जाएगा।

प्रतापगढ़ जिले के 17 ब्लॉकों में से 11 ब्लॉकों में जल स्तर लगातार घट रहा है, इन ब्लॉकों में जल स्तर सही करने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से प्रयास शुरू कर दिया गया है। इसी तहत इन ब्लॉकों के 11 तालाबों को भी चिन्हित कर लिया गया है।

देल्हूपुर गाँव के रहने वाले कांशीराम गुप्ता (50 वर्ष) कहते हैं, “पहले बारिश में पूरा तालाब भर जाता था, सिंचाई के लिए भी इसी का पानी काम आता था, लेकिन कुछ साल से लोगों ने तालाब पर कब्जा कर लिया था। जिला प्रशासन की मदद से अगर इन तालाबों को कब्जा मुक्त कराया जाएगा तो अच्छा होगा।”

चिन्हित किए गए तालाबों के निर्माण के लिए जिला प्रशासन ने शासन से बजट मांगा था, अब इन तालाबों को सुधारने के लिए शासन की तरफ से 90 लाख रुपए भी मिल गए हैं। इससे बारिश के पहले-पहले इन तालाबों का निर्माण हो जाएगा।
आरके गुप्ता, सहायक अभियंता, लघु सिंचाई विभाग

लघु सिंचाई विभाग की तरफ से शुरू हुआ निर्माण कार्य

जिले के चिन्हित तालाबों के निर्माण के लिए जिला प्रशासन ने लघु सिंचाई विभाग को काम दिया है। इसमें पट्टी ब्लॉक के तीन, सदर के तीन, लालगंज, मानधाता और लक्ष्मणपुर के एक-एक और शिवगढ़ ब्लॉक के दो तालाबों को शामिल किया गया है। ये सभी तालाब एक हेक्टेयर या उससे ज्यादा क्षेत्रफल के हैं।

16 और तालाबों का होगा निर्माण

प्रशासन की तरफ से 16 और भी तालाबों को चिन्हित करके उसके बजट की मांग प्रशासन से की है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top