जब स्कूलों ने गाँवों को विकसित करने का बीड़ा उठाया ...

जब स्कूलों ने गाँवों को विकसित करने का बीड़ा उठाया ...छात्रों की पहल से पट गयी स्कूल के रास्ते वाली सड़क के दोनों ओर की खाई

लोकेश मंडल शुक्ला (कम्यूनिटी जर्नलिस्ट)

ये ख़बर हमें इन्होंने बताई- वैष्णवी सिंह- कक्षा-10 उम्र-13 वर्ष बाल विद्या मंदिर

रायबरेली। जिले में स्वयं प्रोजेक्ट के अंतर्गत जुड़े श्री गांधी विद्यालय इंटर कालेज और बाल विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्रों ने दो अलग-अलग पहल कर ना केवल अपने विद्यालय में बल्कि अपने समाज में भी एक नई मिसाल पेश की है।

एनसीसी कैडेट छात्रों ने अंतराष्ट्रीय रक्तदान दिवस के मौके पर गाँवों में रैली निकालकर ग्रामीणों को रक्तदान करने के लिए प्रेरित किया।

जनपद के बछरावां ब्लॉक में स्थित श्री गांधी विद्यालय इण्टर कालेज (बछरावां) में एनसीसी कैडेट छात्रों ने अंतराष्ट्रीय रक्तदान दिवस के मौके पर गाँवों में रैली निकालकर ग्रामीणों को रक्तदान करने के लिए प्रेरित किया।

वहीं हरचंदपुर ब्लॉक के बाल विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्रों ने प्रशासन द्वारा मदद ना दिए जाने के बावजूद अपने स्कूल के रास्ते आने वाली सड़क के दोनो तरफ़ की बीस फीट की खाई को मिलकर पाट दिया।

अपने स्कूल के रास्ते वाली सड़क के दोनों तरफ की बीस फीट की खाई को मिलकर पाटते बाल विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्र

बरसात के समय इस रास्ते पर स्कूल जाने वाले बच्चों को दुर्घटना का सामना करना पड़ता था। इसके अलवा हमने इस रास्ते के सुधार के लिए कई बार प्रशासन से गुहार लगाई पर इस ओर ध्यान नहीं दिया गया, तो बच्चों ने खुद समस्या दूर करने का फ़ैसला किया और सड़क किनारे गहरे गड्ढों को पाट दिया।
वीरेंद्र बहादुर सिंह, प्रधानाचार्य- बाल विद्या मंदिर इंटर कालेज

श्री गांधी विद्यालय परिसर में आयोजित रक्तदान रैली में स्कूल के प्रधानाचार्य विनोद तिवारी, अध्यापक अजय अवस्थी और डॉ. ओपी दुबे ने बच्चों को रक्तदान को महादान बताते हुए इसके महत्व और फायदों के बारे में बताया।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top